भारत के आईटी विशेषज्ञों के हितों का ध्यान रखना हमारी जिम्मेदारी : ममता    

भारत के आईटी विशेषज्ञों के हितों का ध्यान रखना हमारी जिम्मेदारी : ममता    ममता बनर्जी, सीएम, पश्चिम बंगाल

कोलकाता (भाषा)। अमेरिका में एच1बी वीजा में फेरबदल संबंधी आदेश लाए जाने की खबरों पर चिंता जताते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि विदेशों रह रहे भारत के आईटी विशेषज्ञों और आईटी कंपनियों के हितों की सुरक्षा करना भारत सरकार का कर्तव्य है।

उन्होंने एक ट्वीट किया, “एच1बी वीजा से जुड़ी खबरें चिंताजनक है। हमें अपनी आईटी कंपनियों और पेशेवरों की सुरक्षा करनी चाहिए और उन्हें पूरा समर्थन देना चाहिए। भारत को अपने आईटी विशेषज्ञों की विश्व स्तरीय प्रतिभा पर गर्व है। उनके हितों का ख्याल रखना हमारा कर्तव्य है।” खबरें आई थी कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एच1बी में बड़ा फेरबदल करने के लिए एक नए शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर करने वाले हैं। इसे उनके बड़े पैमाने पर किए जा रहे आव्रजन सुधारों के प्रयास का हिस्सा बताया गया था।

मंगलवार को भारत ने कहा था कि उसने अमेरिका को अपने ‘हितों और चिंताओं’ से अवगत करवा दिया है। एच1बी वीजा नौकरियों के लिए अल्पकालिक वीजा (नॉन-माइग्रेंट वीजा) होता है जो अमेरिकी कंपनियों में विशेषज्ञता की दरकार वाले पेशों मसलन तकनीकी या सैद्धांतिक विशेषज्ञता वाले विशिष्ट क्षेत्रों में विदेशी नागरिकों को रोजगार देने से संबंधित है। हर साल लाखों लोगों को रोजगार पर रखने के लिए तकनीकी फर्में इस तरह के वीजा पर निर्भर करती हैं।

Share it
Share it
Share it
Top