इस देश में सिगरेट और शर्बत पर लगेगा पाप कर

पकिस्तान स्वास्थ्य बजट को बढ़ाने के लिए अब सिगरेट और शर्बतों पर जल्द ही पाप कर लगाएगा।

इस देश में सिगरेट और शर्बत पर लगेगा पाप कर

इस्लामाबाद (भाषा)। पाकिस्तान स्वास्थ्य बजट को बढ़ाने के लिए अब सिगरेट और शर्बतों पर जल्द ही पाप कर लगाएगागा। देश के स्वास्थ्य मंत्री अमीर महमूद कियानी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।स्थानीय मीडिया के अनुसार उन्होंने जन स्वास्थ्य सम्मेलन में कहा कि उनकी पकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार देश के सकल घरेलू उत्पाद के पांच प्रतिशत वाला स्वास्थ्य बजट बनाना चाहती है और इस काम के लिए उसे आमदनी बढ़ानी होगी।

इसके लिए सरकार कई तरह के उपाय अमल में ला रही है। इनमें से एक तरीका यह है कि तंबाकू उत्पादों और मीठे पेयों पर एक पाप कर (सिन टैक्स) लगा दिया जाये और इससे जो आमदनी होगी उसे स्वास्थ्य बजट में शामिल कर दिया जाए। अभी सरकार स्वास्थ्य पर जीडीपी का केवल दशमलव छह फीसदी ही खर्च करती है। मीडिया रिपोर्टो में एक महानिदेशक डा. असद हफीज के हवाले से कहा गया है कि विश्व के करीब 45 देशों में इस तरह का कर लगाया जाता है।

ये भी पढ़ें : क्या भारत का टैक्स सिस्टम विकास को रफ्तार देगा ?

सिन टैक्स यानि पाप कर शराब, सिगरेट, पोर्नोग्राफी और जुओं पर लगने वाला डायरेक्ट टैक्स है, जो इन चीज़ों को बनाने या फिर होलसेलर पर लगाया जाता है। इस टैक्स से आने वाली रकम को सामाजिक और आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने में लगाया जाता है। अमेरिका में भी सिन टैक्स की रकम को इंफ्रास्ट्रक्चर में लगाया जाता है। वहीं, स्वीडन में इस कर से आने वाली राशि को जुएं की लत से परेशान लोगों की मदद में लगाया जाता है।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top