पटियाला की नाभा जेल पर हमला, खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट के सरगना मिंटू सहित पांच कैदियाें को छुड़ाकर ले गए

पटियाला की नाभा जेल पर हमला, खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट के सरगना मिंटू सहित पांच कैदियाें को छुड़ाकर ले गएपाटियाला के नाभा जेल पर हमला। प्रतीकात्मक फोटो

पाटियाला (भाषा)। पुलिस की वर्दी में आए सशस्त्र लोगों के एक समूह ने आज पटियाला के नाभा जेल पर हमला किया और वे खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट के सरगना हरमिंदर सिंह मिंटू सहित पांच कैदियों को छुड़ाकर ले गए। जेल अधिकारियों ने बताया कि पुलिस की वर्दी में आए हमलावरों ने नाभा जेल की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगा दी। हमले के दौरान 100 राउंड गोलियां चली। वहीं पंजाब सरकार ने फरार कैदियों की सूचना देकर उनकी गिरफ्तारी कराने वाले को 25 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की।

पुलिस ने बताया कि पुलिस की वर्दी में आए युवकों के एक समूह ने जेल पर हमला किया और अंधाधुंध गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि जेल से एक खूंखार आतंकवादी सहित पांच कैदी भाग गए। पुलिस के अनुसार जेल से भागे अन्य कैदियों में गैंगस्टर विकी गोंडर, गुरप्रीत शेखों, नीता देओल, विक्रमजीत तथा आतंकी मिंटू शामिल है। फरार कैदी हरियाणा की तरफ भागे हैं।

पंजाब पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों ने इलाके की घेराबंदी कर ली है और फरार हुए कैदियों को पकड़ने के लिए व्यापक तलाशी अभियान चलाया गया है।हथियारों से लैस करीब 10-12 हमलावर एक टोयोटा फॉरच्यूनर एसयूवी सहित दो कारों से जेल परिसर में घुसे थे।जेल सूत्रों के मुताबिक, जब कैदियों को सुबह के दैनिक कार्यो के लिए उनके बैरकों से बाहर लाया गया, तब यह हमला हुआ।

कैदियों द्वारा जेल तोड़कर फरार होने की यह घटना पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव से दो महीने पहले हुई है। इस घटना को सुरक्षा में बड़ी चूक और खुफिया तंत्र की नाकामी के रूप में देखा जा रहा है।

मिंटू को पंजाब पुलिस ने 2014 में दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से पकड़ा था। उसे सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर 2008 में हुए हमले तथा 2010 में हलवाडा वायुसेना स्टेशन में विस्फोटक मिलने सहित 10 मामलों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था।

पंजाब जेल तोड़ने के मामले में वरिष्ठ अधिकारी निलंबित, बर्खास्त

पंजाब सरकार ने अतिसुरक्षित नाभा जेल तोड़कर खूंखार आतंकवादियों के फरार होने के मामले में रविवार को पुलिस महानिदेशक (जेल) को निलंबित कर दिया और दो अन्य जेल अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया।

हमने डीजीपी (जेल) को निलंबित कर दिया है और जेल अधीक्षक तथा उपाधीक्षक को बर्खास्त कर दिया है।चिंता की कोई बात नहीं है। हम उन्हें पकड़ लेंगे। एक मुठभेड़ हो चुकी है। इसके लिए जो भी जिम्मेदार है, उसे बख्शा नहीं जाएगा।
सुखबीर सिंह बादल उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री पंजाब (संवाददाताओं को बताया)

केंद्र ने नाभा जेल से कैदियों के भागने की घटना को लेकर मांगी रिपोर्ट

पंजाब में कैदियों के जेल से भागने की घटना से चिंतित केंद्र सरकार ने आज राज्य सरकार से घटना के विस्तृत विवरण के साथ एक रिपोर्ट मांगी है। केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने भी पंजाब के पुलिस महानिदेशक से बात की और राज्य के सभी जेलों में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस घटना और जेलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उठाये गए कदमों के बारे में जल्द-से-जल्द एक रिपोर्ट भेजने को कहा है।

दो दिन पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सुरक्षा बलों से पंजाब और चार अन्य राज्यों में होने वाले चुनाव की प्रक्रिया के दौरान ‘द्वेषपूर्ण' राजनैतिक अभियान या बाहरी उग्रवादी बलों द्वारा शांति भंग करने के प्रयास को रोकने के लिए कहा था।

यूपी पुलिस ने एक आरोपी पकड़ा

पंजाब की सभी जेलों में से सबसे अधिक सुरक्षित मानी जाने वाली नाभा जेल में कई खूंखार आतंकवादी, गैंगस्टर और अपराधी कैद हैं। यह जेल चंडीगढ़ से करीब 100 किलोमीटर दूर है।

यूपी पुलिस ने दावा किया है कि उसने पंजाब के पटियाला जिले में नाभा कारागार पर हमला करने वालों में से एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से हथियार बरामद किया है। जेल पर आज सुबह हुए हमले में एक खालिस्तानी उग्रवादी सहित छह अपराधी फरार हुए हैं।

पुलिस का कहना है कि परमिन्दर उर्फ पेंडा एक एसयूवी से यात्रा कर रहा था। उसी दौरान पश्चिम उत्तर प्रदेश में शामली के कैराना चेक पोस्ट पर उसके वाहन को रोका गया। उसने भागने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उसे पकड़ लिया। पुलिस ने कहा कि परमिन्दर के कब्जे से एक एसएलआर और तीन अन्य राइफल बरामद हुई हैं।

Share it
Share it
Share it
Top