पेट्रोल पंप पर कार्ड से भुगतान पर विवाद सुलझा, 13 तक स्वीकार करेंगे डेबिट और क्रेडिट कार्ड, बैंकों ने सरचार्ज का फैसला वापस लिया

पेट्रोल पंप पर कार्ड से भुगतान पर विवाद सुलझा, 13 तक स्वीकार करेंगे डेबिट और क्रेडिट कार्ड, बैंकों ने सरचार्ज का फैसला वापस लियापेट्रोल पंप एसोशिएशन ने वापस लिया फैसला।

लखनऊ। डेबिट और क्रेडिट से भुगतान को लेकर पेट्रोल पंपों का विवाद फिलहाल सुलझ गया है। पेट्रोल पंपों ने 13 जनवरी तक कार्ड से पेमेंट न लेने का फैसला टाल दिया है। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के आश्वासन के बाद पेट्रोल पंप डीलर ने ये फैसला लिया। हालांकि दिल्ली के कई इलाकों में फैसला वापस लेने बाद भी पेट्रोल पंपों ने कार्ड स्वीकार नहीं किए।

इससे पहले बैंकों ने रविवार को ही कार्ड से भुगतान पर एक प्रतिशत शुल्क और उस पर कर लगाने का फैसला वापस ले लिया था। इस फैसले के विरोध में ही पेट्रोल-पंप एसोसिएशन ने 9 जनवरी की रात से डेबिट-क्रेडिट कार्ड से भुगतान न करने का फैसला किया था, जिसे आज वापस ले लिया गया।

‘मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट' (एमडीआर) को देश में कैशलेश के भुगतान के आगे बड़ा रोडा मान जा रहा है। पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने कहा कि फैसला एक पक्षीय हैं, और एक-एक पेट्रोल पंप पर कई-कई स्वाइप मशीने लगाई गई हैं। नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार ने पेट्रोल पंपों पर कैशलेश भुगतान को बढ़ावा देने को कहा है और बाकायदा इसके लिए लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं।

Share it
Share it
Share it
Top