आतंकियों को शरण देने वालों के खिलाफ भी हो कार्रवाई: प्रधानमंत्री

Anand TripathiAnand Tripathi   4 Dec 2016 2:13 PM GMT

आतंकियों को शरण देने वालों के खिलाफ भी हो कार्रवाई: प्रधानमंत्रीप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आतंकवाद खत्म करने का किया आह्वान

अमृतसर (भाषा)। पाकिस्तान को स्पष्ट संदेश देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को सिर्फ आतंकवादी ताकतों के खिलाफ ही नहीं, बल्कि इनको सहयोग, शरण, प्रशिक्षण और वित्तीय मदद देने वालों के विरुद्ध भी ‘दृढ कार्रवाई' की जरूरत का आह्वान करते हुए कहा कि चुप्पी और निष्क्रियता से आतंकवादियों एवं उनके आकाओं का हौसला बढ़ेगा। ‘हार्ट ऑफ एशिया' के छठे सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि आतंकी हिंसा का बढ़ता दायरा इस क्षेत्र के लिए गंभीर खतरा पैदा कर रहा है।

‘हॉर्ट ऑफ एशिया' अफगानिस्तान में बदलाव में मदद के मकसद से स्थापित मंच है। उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवाद और बाहर से प्रोत्साहित अस्थिरता ने अफगानिस्तान की शांति, स्थिरता और समृद्धि के लिए गंभीर खतरा पैदा किया है। आतंकी हिंसा के बढ़ते दायरे ने हमारे पूरे क्षेत्र को खतरे में डाला है। अफगानिस्तान में शांति की आवाज का सिर्फ समर्थन करना ही पर्याप्त नहीं है।'' प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘इसके साथ ही दृढ़ कार्रवाई होनी चाहिए। यह कार्रवाई सिर्फ आतंकवादी ताकतों के खिलाफ ही नहीं, बल्कि इनका सहयोग, शरण, प्रशिक्षण और वित्तीय मदद देने वालों के विरुद्ध भी होनी चाहिए।''

वह वार्षिक मंत्रीस्तरीय सम्मेलन का अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ संयुक्त रूप से उद्घाटन करने के बाद बोल रहे थे। इस सम्मेलन में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज सहित करीब 30 देशों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। मोदी ने कहा, ‘‘अफगानिस्तान एवं हमारे क्षेत्र में आतंकवाद के खिलाफ चुप्पी और निष्क्रियता से सिर्फ आतंकवादियों और उनके आकाओं का हौसला बढ़ेगा। इसके साथ ही अफगानिस्तान के विकास और मानवीय जरूरतों को लेकर भौतिक सहयोग के लिए हमारी द्विपक्षीय और क्षेत्रीय प्रतिबद्धताएं जारी रहनी चाहिए और बढ़नी चाहिए।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top