Top

प्रधानमंत्री ने ग्रामीण इलाकों में अधिक नकदी पहुंचाने के दिए निर्देश

प्रधानमंत्री ने ग्रामीण इलाकों में अधिक नकदी पहुंचाने के दिए निर्देशनरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नई दिल्ली (आईएएनएस)। सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों तक नकदी की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए बैंकों से नकदी निकालने की सीमा बढ़ाते हुए बैंकों में एक से अधिक बार आने और डाकघरों की शाखाओं के जरिए पैसा वितरित करने की सीमा बढ़ा दी है।

प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में रविवार रात उच्चस्तरीय बैठक के बाद सोमवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने कहा कि एटीएम से बड़े नोट भी निकाले जा सकेंगे और इन्हें आगामी कुछ दिनों में बढ़ाया जाएगा।

एटीएम से रोजाना पैसा निकालने की सीमा अब 2,000 रुपये से बढ़कर 2,500 रुपये हो गई है और बैंक के काउंटरों से अब 4,000 के पुराने नोट के बजाए 4,500 रुपये तक के नोट बदले जा सकेंगे। देश में 200,000 से अधिक एटीएम है।

शक्तिदास ने कहा कि देश में 1,20,000 बैंकिंग कारेस्पोंडेंट (वे लोग जो बैंकों की तरफ से छोटी धनराशि जमा कराने के लिए अधिकृत होते हैं) हैं और देश में 130,000 से अधिक डाकघरों की शाखाएं हैं। इन कुल 250,000 में से अधिकतर ग्रामीण क्षेत्रों में हैं और यह अधिक संख्या में नकदी देने में सक्षम होंगे।

दास ने यह भी कहा कि बैंक खातों से एक सप्ताह में पैसा निकालने की ऊपरी सीमा 20,000 रुपये से बढ़ाकर 24,000 रुपये कर दी गई है। बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के उप गवर्नर के नेतृत्व में कार्यबल के गठन का फैसला किया गया है ताकि विभिन्न माध्यमों के जरिए नकदी के वितरण पर नजर बनाई रखी जा सके।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.