दोबारा हिरासत में लिए गए राहुल गांधी, सियासत गरमाई

दोबारा हिरासत में लिए गए राहुल गांधी, सियासत गरमाईराहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल।

नई दिल्ली (भाषा)। दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी को आज दोबारा हिरासत में लिया और उन्हें अज्ञात स्थान पर ले गई। हालांकि कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया। पूर्व सैनिक के कथित तौर पर खुदकुशी करने के बाद उसके परिवार के सदस्यों से मुलाकात करने का प्रयास करने के बाद उन्हें हिरासत में लिया गया। साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी हिरासत में लेने के बाद छोड़ दिया गया।

सूत्रों ने बताया कि राहुल को ज्योतिरादित्य सिंधिया और अजय माकन सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ पुलिस वैन में बैठा दिया गया और थाने ले जाया गया। बहरहाल उन्होंने यह नहीं बताया कि कांग्रेस नेता को कहां ले जाया गया।

इससे पहले राहुल को आरएमएल अस्पताल में उस समय हिरासत में लिया गया जब उन्होंने पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल के परिजन से मुलाकात करने का प्रयास किया जिन्होंने कल रात एक रैंक एक पेंशन के मुद्दे पर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली।

राजनाथ ने पुलिस कार्रवाई का बचाव किया

जोखिम कम करने के लिए जो भी करना होगा, दिल्ली पुलिस करेगी। राजग सरकार ने ‘वन रैंक, वन पेंशन’ को लागू कर इससे जुड़े लंबित मुद्दे का समाधान कर दिया है।
राजनाथ सिंह, गृह मंत्री

मौत पर राजनीति कर रहे हैं राहुल, केजरीवाल

भाजपा ने पलटवार करते हुए राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल पर ‘मौतों पर राजनीति' करने का आरोप लगाया। उसने इस बात पर जोर दिया कि उसने ‘एक रैंक एक पेंशन' पर अपना वादा निभाया, जबकि कांग्रेस ऐसा कर पाने में नाकाम रही। दरअसल, इन दोनों नेताओं ने एक पूर्व सैनिक की आत्महत्या पर मोदी सरकार को निशाना बनाया है।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने एक बयान में कहा, ‘‘पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल की आत्महत्या दुर्भाग्यपूर्ण है और उनके परिवार के साथ हमारी सहानुभूति है। उनकी मौत पर राजनीति होना कहीं अधिक दुर्भाग्यपूर्ण है। जहां तक ओआरओपी की बात है, सरकार ने अपना वादा पूरा किया और पूर्व सैनिक इसका लाभ उठा रहे हैं।''

Share it
Share it
Share it
Top