रामनरेश यादव सहित तीन पूर्व सदस्यों को राज्यसभा में दी गई श्रद्धांजलि 

रामनरेश यादव सहित तीन पूर्व सदस्यों को राज्यसभा में दी गई श्रद्धांजलि बैठक शुरु होने पर सभापति हामिद अंसारी ने सदन के पूर्व सदस्यों, राम नरेश यादव, प्रो एमजी के मेनन और एम बाल मुरलीकृष्ण के निधन का जिक्र किया।

नई दिल्ली (भाषा)। राज्यसभा के तीन दिवंगत पूर्व सदस्यों (राम नरेश यादव, प्रो एम जी के मेनन और एम बाल मुरलीकृष्ण) के निधन पर बुद्धवार को उन्हें उच्च सदन में श्रद्धांजलि दी गई। बैठक शुरु होने पर सभापति हामिद अंसारी ने सदन के पूर्व सदस्यों, राम नरेश यादव, प्रो एमजी के मेनन और एम बाल मुरलीकृष्ण के निधन का जिक्र किया।

मध्यप्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नरेश यादव का 22 नवंबर को 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया। छठी लोकसभा के सदस्य रहे यादव ने राज्यसभा में उत्तर प्रदेश का अप्रैल 1988 से 1989 तक और फिर जून 1989 से 1994 तक प्रतिनिधित्व किया था। सभापति ने कहा कि उनके निधन से देश ने एक कुशल प्रशासक और मुखर नेता को खो दिया है।

प्रो एमजी के मेनन का 22 नवंबर को 88 साल की उम्र में निधन हो गया। पद्मश्री, पद्म भूषण, पद्म विभूषण और देश विदेश के अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किए जा चुके मेनन प्रधानमंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार रह चुके थे। उन्होंने उच्च सदन में राजस्थान का अप्रैल 1990 से 1996 तक प्रतिनिधित्व किया था। अंसारी ने कहा कि उनके निधन से देश ने एक बेहतरीन वैज्ञानिक और योग्य प्रशासक को खो दिया है।

संगीत जगत की जानीमानी हस्ती एम बालामुरलीकृष्ण का 22 नवंबर को 86 साल की उम्र में निधन हो गया। पद्मश्री, पद्म भूषण, पद्म विभूषण तथा देश विदेश के अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किए जा चुके बालामुरलीकृष्ण कर्नाटक गायन में सिद्धहस्त थे और अनेक वाद्य यंत्र बजाने में भी महारथ रखते थे। अंसारी ने कहा कि उनके निधन से देश ने एक उत्कृष्ट संगीतज्ञ को खो दिया है। सदस्यों ने दिवंगत पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि देते हुए उनके सम्मान में कुछ पलों का मौन रखा।

Share it
Top