नोटबंदी कड़वी दवा की तरह, लेकिन अर्थव्यवस्था के लिये शुभ: रामदेव  

नोटबंदी कड़वी दवा की तरह, लेकिन अर्थव्यवस्था के लिये शुभ: रामदेव   नोटबंदी को लेकर योग गुरु रामदेव ने केंद्र सरकार का बचाव किया

इंदौर (भाषा)। नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की कड़वी दवा से तुलना करते हुए योग गुरु रामदेव ने कहा कि 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के कदम का देश की अर्थव्यवस्था पर आने वाले दिनों में अच्छा असर होगा।

रामदेव ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘नोटबंदी से हालांकि आम लोगों को फिलहाल कुछ समस्याएं हो रही हैं लेकिन यह थोड़े ही दिनों की बात है। नोटबंदी देश की अर्थव्यवस्था के लिये कड़वी दवा के रूप में है। भविष्य में इस फैसले का अर्थव्यवस्था पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा।’ उन्होंने कहा, ‘विपक्ष ने नोटबंदी के मुद्दे पर भारत बंद का आह्वान किया लेकिन देश के लोग नोटबंदी के समर्थन में खड़े हो गये। यह इस बात का प्रमाण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोटों को बंद करने का बड़ा साहसिक फैसला किया। वह इस फैसले को लेकर जनता का भरोसा जीतने में भी कामयाब रहे।’ योग गुरु ने शिवराज सिंह चौहान को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में लगातार 11 साल पूरे करने पर बधाई भी दी।

शिवराज ने मुख्यमंत्री के रूप में किसानों, मजदूरों, दलितों और शोषितों के हित में अच्छा काम किया है, उनके नेतृत्व में मध्य प्रदेश ने कृषि, उद्योग, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि क्षेत्रों में श्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।
रामदेव, योग गुरु

Share it
Top