आरबीआई ने ब्याज दरों में नहीं दी रियायत 

आरबीआई ने ब्याज दरों में नहीं दी रियायत भारतीय रिज़र्व बैंक

मुंबई (आईएएनएस)। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को मौद्रिक नीति समीक्षा में प्रमुख ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है और यह 6.25 फीसदी पर बरकरार रहेगी। इसके साथ ही रिपरचेज रेट या अल्पकालिक ब्याज दरों में भी केंद्रीय बैंक ने कोई बदलाव नहीं किया है और यह 6.25 फीसदी ही रहेगी। वहीं, रिवर्स रेपो रेट की दर 5.75 फीसदी यथावत रहेगी।

एक नजर में समीक्षा बैठक

  1. रेपो दर 6.25 प्रतिशत पर कायम, रिवर्स रेपो दर 5.75 प्रतिशत पर
  2. नकद आरक्षित अनुपात या सीआरआर 4 प्रतिशत पर बरकरार
  3. वित्त वर्ष के लिए वृद्धि दर के अनुमान को 7.6 प्रतिशत से घटाकर 7.1 प्रतिशत किया
  4. मार्च, 2015 के लिए मुद्रास्फीति का लक्ष्य 5 प्रतिशत पर कायम, ऊपर जाने का जोखिम
  5. नोटबंदी से जल्द खराब होने वाले उत्पादों के दाम घटेंगे, दिसंबर तक मुद्रास्फीति 0.10 से 0.15 प्रतिशत तक घटेगी
  6. एमपीसी के सभी सदस्यों ने यथास्थिति कायम रखने के पक्ष में मत दिया
  7. नोटबंदी से नकदी आधारित क्षेत्रों में कुछ समय के लिए अड़चन आएगी
  8. कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव, वित्तीय बाजार में संकट से मार्च अंत का मुद्रास्फीति का लक्ष्य जोखिम में पड़ सकता है
  9. दो दिसंबर को विदेशी मुद्रा भंडार 364 अरब डालर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर
  10. रिजर्व बैंक ने इस वित्त वर्ष में ओएमओ खरीद के जरिये 1.1 लाख करोड़ रुपये की तरलता डाली
  11. अगली मौद्रिक समीक्षा 8 फरवरी, 2017 को

Tags:    RBI repo rate 
Share it
Top