लालू गम्भीर नेता नहीं हैं: केंद्रीय मंत्री

लालू गम्भीर नेता नहीं हैं: केंद्रीय मंत्रीकेंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह।

बलिया (भाषा)। केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने पूर्व प्रधानमन्त्री अटल बिहारी वाजपेयी के खराब स्वास्थ्य के पीछे साजिश की आशंका जताकर उसकी जाँच कराने की राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की मांग को खारिज करते हुए कहा है कि लालू गम्भीर नेता नहीं हैं।

सिंह ने सम्मेलन में लालू द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की खराब सेहत को साजिश बताये जाने के सवाल पर कहा कि लालू की बात को कोई गम्भीरता से नहीं लेता। लालू की पार्टी बिहार की महागठबंधन सरकार की प्रमुख घटक है, मगर इसके बावजूद वहां के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी उनको गम्भीरता से नहीं लेते।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने कहा कि लालू तो विरोधी पक्ष के नेता हैं, लिहाजा वह हमारा विरोध तो करेंगे ही। मालूम हो कि लालू ने कल रायबरेली में आरोप लगाया कि मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को किनारे करके उनके साथ गलत किया गया है। उनको कोई गोली खिलाकर सुला दिया गया है। इसकी जांच होनी चाहिये।

उन्होंने कहा कि गोधरा कांड होने पर तत्कालीन प्रधानमंत्री वाजपेयी ने मोदी को फटकारा था। आडवाणी ने मोदी को बचा लिया था, लेकिन मोदी ने आडवाणी को भी किनारे कर दिया। नीतीश कुमार की भाजपा से कथित नजदीकी के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा कि नीतीश के भविष्य के कदम के बारे में सिर्फ कयास ही लगाये जा सकते हैं।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि काला धन मामले में दोषी पाये जाने पर कोई नहीं बचेगा, चाहे वह बसपा मुखिया मायावती हों या कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा हों। मायावती के भाई के मामले की प्रवर्तन निदेशालय जाँच कर रहा है। सिंह ने काला धन के मामले पर किसी भी राजनेता पर कोई कार्रवाई ना होने के बारे में कहा कि 3 माह में जाँच पूरी नहीं हो पायेगी।

उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा मजहब के आधार पर भेदभाव नहीं करती। भाजपा वोट बैंक बनाने के लिये मजहबी आधार पर किसी वर्ग को प्रोत्साहित करने की भी पक्षधर नहीं है। सिंह ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में सपा और कांग्रेस का ‘अननेचुरल गठजोड' भाजपा की सरकार बनाने में मददगार साबित होगा।

Share it
Share it
Share it
Top