3.85 करोड़ लोगों को दो रुपये में गेंहू, तीन रूपये में चावल

3.85 करोड़ लोगों को दो रुपये में गेंहू, तीन रूपये में चावलमुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम की शुरुआत की।

लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को कालिदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम की शुरुआत की। पहले चरण में लखनऊ के लगभग सौ परिवारों को राशन कार्ड दिया गया। इस महत्वाकांक्षी योजना से यूपी के 3.85 करोड़ से ज्यादा परिवार के लोगों को लाभ मिलेगा। इन कार्ड के माध्यम से लाभार्थिंयों को 2 रुपये किलो गेंहू, 3 रुपये किलो चावल व 13 रुपये किलो चीनी मिल सकेगी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे प्रदेश में नये राशन कार्ड जल्द से जल्द बंट जायें हम यह चाहते हैं। उन्होंने कहा कि तीन महीने में हम लोगों को 3 करोड़ 32 लाख राशन कार्ड बांटने हैं। उन्होंने कहा कि राशन कार्ड से गरीबों को काफी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि जितना यह राशन कार्ड लोगों की मदद करेगा तो वहीं सुंदर भी दिखेगा क्योंकि इसको पहले से अच्छा बनाया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नए राशन कार्ड विशेष तरह से बनाये गए हैं। उन्होंने कहा कि राशन वितरण प्रणाली में व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए आगामी तीन नवंबर को ई-पोस्ट मशीन लांच की जायेगी। यह मशीन पूरी तरह से आधुनिक तकनीक से लैस है और इसमें आधार कार्ड इंटरलिंक है। लाभार्थी को इस मशीन के माध्यम से स्मार्ट राशन कार्ड प्रिंट करके दिया जायेगा। मशीन में अगूंठे का निशान स्कैन होते ही पूरा ब्योरा आ जायेगा। उन्होंने कहा कि जो लखनऊ में काम हुआ मशीन को लेकर उतनी तेजी से कहीं काम नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि समाजवादियों का मानना है कि जितना ज्यादा प्रयोग टेक्नालॉजी का प्रयोग करेंगे उससे पारदर्शिता बढ़ेगी और कहीं न कहीं सहूलियत बढ़ेगी और करप्शन कम होगा। उन्होंने कहा कि 55 लाख लोग समाजवादी पेंशन पा रहे हैं। समाजवादी पेंशन बनने में तो करप्शन हो सकता है लेकिन पहुंचाने में कहीं कोई करप्शन नहीं है। अगर हम समाजवादियों को अगली बार मौका मिला तो हम इसी कोशिश में लगेंगे कि करप्शन से और किस तरह से लड़ा जाये इस दिशा में समाजवादी सरकार काम करेगी।

अखिलेश ने कहा कि सपा सरकार गरीबों की मदद में सबसे आगे है। उन्होंने विपक्ष पर निशाना लगाते हुए कहा कि कुछ लोगों को यह परेशानी है कि सपा सरकार योजनाओं का प्रचार कर रही है और एम्बुलेंस, बैग, लैपटॉप, राशनकार्ड हर जगह पर अपना नाम और फोटो लगवाती है। मैं उनसे कहना चाहूंगा कि जब समाजवादी सरकार काम कर रही है तो लोगों को यह जानने की भी जरूरत है कि कौन सी सरकार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में भी ऐतिहासिक काम हुआ है हालांकि सूखे के मामले को लेकर जरूर उंगली उठी थी लेकिन जब भी गरीबों पर संकट आया है सपा सरकार मदद के लिए पहुंची है।

कार्यक्रम में बोलते हुए खाद्य एवं रसद मंत्री कमाल अख्तर ने कहा कि उपरोक्त योजना के पुरे 3 करोड़ 85 लाख कार्ड अगले 15 दिनों के अंदर वितरित कर दिए जाएंगे।कार्यक्रम के दौरान सपा नेता राजेन्द्र चौधरी सहित कई अधिकारी भी मौजूद रहे।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम के तहत राशन कार्ड पाने वाली भोलानाथ कुआं, चौपटिया निवासी रेहाना 35 वर्ष ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री के हाथों राशन कार्ड पाकर बहुत खुश हूं। मुझे दोहरी खुशी है, एक तो मुख्यमंत्री से कार्ड प्राप्त हुआ और दूसरा इस कार्ड के माध्यम से बहुत परेशानियां कम हो जायेंगी। उन्होंने कहा कि घर में तीन बच्चे हैं और कमाने वाले मेरे पति ही हैं जो मार्बल की दुकान पर काम करते हैं। मंहगाई में घर चलाना मुश्किल है ऐसे में पीला बीपीएल कार्ड मुझे बहुत राहत देगा।

वहीं वजीरगंज निवासी खलीकुन्निशां 60 वर्ष ने कहा कि मुझे पहली बार मुख्यमंत्री को सामने से देखने का मौका मिला और साथ में कार्ड भी उनके ही हाथों से मिला जो मेरे लिए खुशी की बात है। उन्होंने कहा कि इस कार्ड के माध्यम से मेरे साथ मेरे पूरे परिवार की जिंदगी काफी आसान हो जायेगी और इसके लिए मैं मुख्यमंत्री की बहुत आभारी हूं।

Share it
Share it
Share it
Top