कुडनकुलम का दूसरा संयंत्र मार्च अंत तक चालू होगा

कुडनकुलम का दूसरा संयंत्र मार्च अंत तक चालू होगातमिलनाडु के कुडनकुलम में 1000 मेगावाट का दूसरा परमाणु संयंत्र दो सप्ताह के भीतर चालू हो जाएगा।

चेन्नई (आईएएनएस)। तमिलनाडु के कुडनकुलम में 1000 मेगावाट का दूसरा परमाणु संयंत्र दो सप्ताह के भीतर चालू हो जाएगा, जबकि इतनी ही क्षमता की पहली इकाई को मध्य अप्रैल में ईंधन भरने के लिए बंद कर दिया जाएगा।

कुडनकुलम परमाणु विद्युत परियोजना (केएनपीपी) के निदेशक एचएन साहू ने सोमवार को कहा कि तीसरे रिएक्टर के निर्माण के लिए कंक्रीट गिराने का काम मई अंत में शुरू होगा। उन्होंने कहा, ''दूसरी इकाई प्रणालियों के परीक्षण के लिए कल (रविवार को) बंद कर दी गई। इसे मार्च अंतिम सप्ताह में फिर से चालू किया जाएगा।'' पॉवर ऑपरेशन कार्पोरेशन लिमिटेड (पोसोको) के अनुसार, केएनपीपी की दूसरी इकाई को डायनामिक ट्रिप टेस्ट के लिए जबरन बंद कर दिया गया था।

साहू ने पहली इकाई के बारे में कहा कि औसत उत्पादन क्षमता का लगभग 85 प्रतिशत है और फिर से ईंधन भरने के लिए इसे मध्य अप्रैल में बंद कर दिया जाएगा। प्रत्येक वर्ष रिएक्टर के 163 ईंधन बंडलों का एक-तिहाई हिस्सा यानी 54 बंडल बदले जाएंगे। साहू ने कहा, ''पहली इकाई के लिए ईंधन भरने का यह दूसरा चक्र होगा।'' उन्होंने कहा कि तीसरी इकाई पहला कंक्रीट डालने की तिथित से 69 महीनों के भीतर तैयार हो सकती है। पहला कंक्रीट मई के अंत में डाला जा सकता है।

Share it
Top