वर्जीनिया में पहला भारतवंशी बना न्यायाधीश 

वर्जीनिया में पहला भारतवंशी बना न्यायाधीश भारतीय मूल के अमेरिकी रुपेन आर. शाह

वाशिंगटन (आईएएनएस)। भारतीय मूल के अमेरिकी रुपेन आर. शाह वर्जीनिया के न्यायाधीश निर्वाचित हुए हैं। इस पद पर आसीन होने वाले वह पहले भारतवंशी हैं, जो वर्तमान में अगस्ता काउंटी कॉमनवेल्थ के मौजूदा चीफ डेप्यूटी हैं। स्थानीय जनरल असेंबली डेलीगेशन की गुरुवार की एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, शाह स्टाउंटोन सिटी के निवासी हैं और वर्जीनिया के न्यायाधीश के रूप में उनके छह वर्षों का कार्यकाल एक फरवरी से शुरू होगा।

शाह एक्जेक्यूटिव कमेटी तथा काउंसिल ऑफ वर्जीनिया स्टेट बार के साथ ही डायवर्सिटी कांफ्रेंस ऑफ वर्जीनिया स्टेट बार के लिए भी काम कर चुके हैं। स्टेट बार ने साल 2009 में उन्हें स्थानीय नेता के रूप में मान्यता दी थी और वह साल 2008-09 के दौरान अगस्ता काउंटी बार एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। न्यूयॉर्क के साइराक्यूज यूनिवर्सिटी से कानून की डिग्री लेने वाले शाह ने गैर लाभकारी वैली चिल्ड्रन्स सेंटर की स्थापना की थी, जो कानून प्रवर्तन तथा बाल सुरक्षा सेवा को उत्पीड़न के शिकार व नजरअंदाज किए गए बच्चों के साक्षात्कार में सहायता प्रदान करता है।

शाह को कानून पढ़ाने का भी खासा अनुभव है। अगस्ता काउंटी कॉमनवेल्थ के अटॉर्नी टीम मार्टिन ने कहा कि शाह न्यायाधीश पद के योग्य उम्मीदवार हैं। मार्टिन ने कहा, “सबसे अच्छी बात तो यह है कि इस पद के लिए उनसे बेहतर कोई नहीं हो सकता था। व्यक्तिगत व पेशेवर दोनों ही रूपों में वह मुझे याद आएंगे।” उन्होंने कहा कि शाह अगस्ता काउंटी में 20 वर्षों से अधिक समय तक अभियोजक के तौर पर कार्य कर चुके हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top