शरद पूर्णिमा पर चंद्रोदय मंदिर में मनाया गया दामोदर दीपोत्सव

शरद पूर्णिमा पर चंद्रोदय मंदिर में मनाया गया दामोदर दीपोत्सवप्रतीकात्मक फोटो

वृंदावन (भाषा)। वृंदावन में बनाये जा रहे देश के सबसे ऊंचे चंद्रोदय मंदिर में रविवार को शरद पूर्णिमा के अवसर पर दामोदर दीपोत्सव मनाया गया और बड़ी संख्या में लोगों ने दीप प्रज्ज्वलित किये।

भक्तों ने जलाए घी के दीये

वृंदावन चंद्रोदय मंदिर की विज्ञप्ति के अनुसार, ब्रज क्षेत्र के अन्य मंदिरों की तरह यहां भी दामोदर दीपोत्सव मनाया गया। जिसमें शाम के समय मंदिर को प्रकाशमान किया गया और बड़ी संख्या में लोगों ने घी के दीये जलाकर भगवान कृष्ण की आरती की। कार्तिक महीने में दामोदर दीपोत्सव मनाया जाता है। ब्रज में इस महीने का विशेष महत्व है। इस मौके पर भगवान कृष्ण के विभिन्न मंदिरों में यह आयोजन किया जाता है। कार्तिक महीने में विशेष रुप से ब्रज के मंदिरों को सजाया जाता है।

भगवान कृष्ण ने किया था महारास

इस दिन मंदिर में शाम को दीप जलाये जाते हैं। कार्तिक मास का पहला दिन शरद पूर्णिमा को होता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन भगवान कृष्ण ने बाल्यावस्था में महारास किया था। उत्तर भारत समेत देश के विभिन्न हिस्यों में खीर बनाकर शरद पूर्णिमा की रात को खुले आसमान के नीचे चांद की रोशनी में रखने की भी परंपरा है। पौराणिक महत्व के अनुसार माना जाता है कि शरण पूर्णिमा के पूर्ण चंद्रमा की रोशनी मीठी खीर को अमृत का गुण प्रदान करती है।

Share it
Share it
Share it
Top