सेक्स रैकेट मामले में निर्दलीय विधायक गिरफ्तार, रैकेट में 14 साल की लड़कियां तक थीं शामिल

सेक्स रैकेट मामले में निर्दलीय विधायक गिरफ्तार, रैकेट में 14 साल की लड़कियां तक थीं शामिलप्रतीकात्मक

शिलांग (भाषा)। चौदह साल की एक नाबालिग लड़की पर कथित यौन हमले के मामले में वांछित मेघालय के निर्दलीय विधायक जूलियस दोरफांग को पड़ोसी राज्य असम में उसके ठिकाने से गिरफ्तार किया गया और उसे आज पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

पुलिस अधीक्षक (शहर) विवेक सईम ने बताया कि दोरफांग कल रात ग्यारह बजे गुवाहाटी मेट्रो पुलिस के साथ मेघालय पुलिस के संयुक्त अभियान में गुवाहाटी के बाहरी इलाके मे अंतरराज्यीय बस टर्मिनस से गिरफ्तार किए गए। उसे आज तड़के यहां लाया गया। उसे हिरासत में भेज दिया गया है। उस पर पिछले महीने इस नाबालिग लड़की से संबंधित सेक्स रैकेट के सिलसिले में भादसं, और अनैतिक देहव्यापार रोकथाम अधिनियम के अलावा पोक्सो अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। उसके बाद वह छिपते भाग फिर रहे थे।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश ई खारुमनुइड ने इन निर्दलीय विधायक को पांच दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया। उन्हें दोपहर में अदालत में पेश किया गया था। वह राज्य में सत्तारुढ़ कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने विधानसभा अध्यक्ष अबू ताहेर मंडल को विधायक की गिरफ्तारी एवं उनके विरुद्ध लंबित मामले का ब्योरा से अवगत करा दिया गया। दोरफांग के विरुद्ध आरोपपत्र दायर किया जाएगा।

मेघालय पुलिस ने 24 दिसंबर को शिलांग के लैतुमख्राह थाने में इन विधायक के विरुद्ध मामला दर्ज किया था। चार जनवरी को अदालत ने उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। उसके बाद तलाशी अभियान शुरू किया गया था। उनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग आयोग में पीडिता द्वारा दिए गए बयान के आधार पर अबतक आठ में से सात लोगों को धरा है। कल पुलिस ने ड्राइवर संदीप बिस्वा को गिरफ्तार किया था। संदीप इस नाबालिग लड़की को गृहमंत्री एचडीआर लिंगदोह के बेटे के गेस्ट हाउस एवं शहर के अन्य गेस्टहाउसों में लेकर गया था।

Share it
Share it
Share it
Top