ठंड से कंपकपाया पूरा उत्तर भारत, लखनऊ में पारा शून्य के नजदीक

ठंड से कंपकपाया पूरा उत्तर भारत, लखनऊ में पारा शून्य के नजदीकपहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में शीतलहर का प्रकोप जारी है।

चंडीगढ़। पहाड़ों पर बर्फ गिरने और शीत लहर की वजह से पूरा उत्तर भारत इस समय भयंकर ठंड की चपेट में है। शुक्रवार को कई जगह पारा शून्य के आसपास तक पहुंच गया। पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर जगहों का न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस से नीचे बना हुआ है। मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि पारा जीरो डिग्री सेल्सियस पर आ जाने के चलते नारनौल दोनों राज्यों में सबसे ठंड स्थान रहा।

शुक्रवार सुबह धूप खिलने के बावजूद पंजाब और हरियाणा के अधिकतर भागों में ठंडी हवाएं चलती रहीं। इस वजह से पंजाब के अमृतसर में न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस रहा जबकि लुधियाना और पटियाला का न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.3 डिग्री सेल्सियस और 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

हरियाणा में अन्य जगहों में, अंबाला का तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से एक डिग्री नीचे है जबकि हिसार में हाड़ कंपा देने वाली ठंडी रही जहां का तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 1.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

हिमाचल में आज बारिश और बर्फबारी की संभावना

इसी तरह हिमाचल प्रदेश के अधिकांश भागों में तीव्र शीत लहर का प्रकोप जारी है। मनाली में तापमान शून्य से सात डिग्री कम दर्ज होने के साथ मौसम विभाग ने 15 जनवरी से राज्य में अधिक बारिश और बर्फबारी की आशंका जताई है। मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि शिमला, नरकंडा, कुफरी, मनाली और डलहौजी मध्य पहाड़ियों में स्थित जैसे अधिकांश प्रमुख पर्यटक कस्बों को शनिवार के बाद मध्यम हिमपात का सामना करना पड़ेगा। कुल्लू जिले का मनाली भी बर्फ की चादर से ढक गया है। लाहौल और स्पीति जिले के केलांग में तापमान शून्य से 14.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया। यह राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा। कल्पा में तापमान शून्य से 7.8 डिग्री नीचे और कांगड़ा शहर में 0.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पिछले 24 घंटे के दौरान लखनऊ यूपी का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु के नजदीक रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम था। लखनऊ में गुरवार की रात पिछले तीन साल में सबसे ठंडी रात रही।
जेपी गुप्ता, निदेशक, मौसम विभाग, लखनऊ

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और आसपास के इलाकों में शुक्रवार सुबह से ही शीतलहर का असर दिखाई दे रहा है।

लखनऊ में पारा शून्य के करीब

समूचा उत्तर प्रदेश भी इस समय जबर्दस्त ठिठुरन भरी सर्दी की जद में है। लखनऊ में धूप निकलने के बावजूद कड़ाके की ठंड पड़ रही है और गुरवार रात यहां पारा जमाव बिंदु के नजदीक पहुंच गया। मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के ज्यादातर मण्डलों में न्यूनतम तापमान में खासी गिरावट आई। इस दौरान गोरखपुर, फैजाबाद, कानपुर, बरेली, मुरादाबाद, आगरा व मेरठ मण्डलों में रात का तापमान सामान्य से काफी नीचे दर्ज किया गया। मौसम निदेशक जेपी गु्प्ता के अनुसार, पिछले 24 घंटे के दौरान लखनऊ यूपी का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु के नजदीक रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम था। लखनऊ में गुरवार की रात पिछले तीन साल में सबसे ठंडी रात रही।

बर्फबारी के कारण पर्यटन उद्योग में बहार

बर्फबारी के कारण पर्यटन उद्योग काफी उत्साहित है क्योंकि बर्फबारी का आनंद लेने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक पहाड़ी क्षेत्रों की ओर रुख कर रहे हैं। शिमला में ओबरॉय ग्रुप ऑफ होटल्स के संर्पक अधिकारी डीपी भाटिया ने बताया, ‘बर्फबारी हमेशा हमारे मेहमानों के लिए आकर्षण रहा है।’

Share it
Top