Top

तहसील दिवस में आने वाली शिकायतों को लें गंभीरता से, नहीं तो गिरेगी गाज

तहसील दिवस में आने वाली शिकायतों को लें गंभीरता से, नहीं तो गिरेगी गाजतहसील दिवस में सुनवाई करते अधिकारीगण।

उन्नाव। तहसील दिवस में आने वाले प्रकरणों के निस्तारण में लापरवाही या हीलाहवाली किसी भी दशा में क्षम्य नहीं होगी। यह कहना है जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह का। वे पुरवा तहसील में आयोजित तहसील दिवस की अध्यक्षता कर रहे थे।

डीएम ने बारी-बारी से सुनी सबकी शिकायत

जिलाधिकारी ने कहा, "तहसील दिवस के मामलों की समीक्षा शासन में उच्च स्तर पर होती है। इसलिए भी निस्तारण में विशेष रूप से सजगता बरती जाय। जिलाधिकारी ने बारी—बारी से फरियादियों को बुलाकर उनसे सीधे संवाद करते हुए समस्याएं सुनीं व त्वरित गति से निस्तारण करने के निर्देश दिए।" इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक नेहा पाण्डेय और मुख्य विकास अधिकारी संजीव सिंह ने भी जन समस्याएं सुनीं व उनके निस्तारण के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

गाँव में चौपाल लगाकर जनसमस्या सुनते जिलाधिकारी।

विभागों की कार्य योजना बनाने के आदेश

इस दौरान जिला विकास अधिकारी नरेश बाबू सविता, उप जिलाधिकारी पुरवा राजमुनि यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. बीएन श्रीवास्तव, कुलदीप कटियार के अलावा अन्य जिला, तहसील व ब्लाक स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। लोगों की पेंशन संबंधी समस्याओं के निस्तारण हेतु इस अवसर पर तहसील परिसर में समाज कल्याण विभाग द्वारा अलग से शिविर लगाया गया। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह मतदाता जागरूकता कार्यक्रम में अपना योगदान दें तथा अपने विभाग की कार्य योजना बनाकर इस दिशा में ठोस कदम उठाएं। विधायक उदयराज ने तहसील दिवस में पहुंचकर कई लोगों की समस्याओं का निराकरण कराया।

दो गाँवों में चौपाल लगाकर की सुनवाई

इसके अलावा जिलाधिकारी के तहसील दिवस में एक बार फिर राशन से संबंधित शिकायतें बड़े पैमाने पर पहुंची। इस पर उन्होंने दो गाँवों में चौपाल लगाकर समस्या निस्तारण के निर्देश मातहतों को जारी किए। सेमरीमऊ के ग्रामीणों ने शिकायत की कि उनके गाँवों में कोटेदार द्वारा राशन वितरण में अनियमितता की जा रही है। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी पुरवा को निर्देश दिए कि वह 23 दिसम्बर को गाँव में जाकर चौपाल लगाएं तथा सभी समस्याओं का समाधान करें। जिलाधिकारी ने कहा कि अपात्र राशन कार्ड धारक तत्काल अपने राशन कार्ड जमा कर दें अन्यथा उनके खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। तूरी छविनाथ के निवासियों ने शिकायत की कि उनके गाँव में राशन कार्डों का सही ढंग से सत्यापन नहीं किया गया है। इस पर जिलाधिकारी ने आपूर्ति निरीक्षक को निर्देश दिए कि वह 24 दिसंबर को गाँव में जाकर राशन कार्डों का सत्यापन करें।

तहसील दिवस में आने वाले प्रकरणों के निस्तारण में लापरवाही या हीलाहवाली किसी भी दशा में क्षम्य नहीं होगी।
सुरेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.