बच्चा पलटन सीखा रही ऑनलाइन बैंकिंग और मोबाइल ट्रांजेक्शन

बच्चा पलटन सीखा रही ऑनलाइन बैंकिंग और मोबाइल ट्रांजेक्शननोटबंदी के बाद स्मार्टफोन से ट्रांजेक्शन बढ़ रहा है

खरगोन (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात में कैशलेस इंडिया की अपील से प्रेरणा लेकर यहां एक निजी स्कूल के 10वीं एवं 11वीं कक्षा के विद्यार्थियों ने एक अनूठे अभियान की शुरुआत की है। ये विद्यार्थी स्कूल की पढ़ाई के बाद शहर में घर-घर दस्तक देकर लोगों को स्मार्टफोन के माध्यम से कैशलेस भुगतान की जानकारी दे रहे हैं। इसके साथ ही विद्यार्थियों ने स्कूल में एक हेल्पडेस्क भी कायम की है।

इसमें अभिभावकों और अन्य लोगों को स्मार्टफोन के ऐप के जरिए बिजली के बिल, टेलीफोन बिल, नगर पालिका का टैक्स तथा अन्य भुगतान ई-माध्यम से करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दो दिन पहले मोदी की मन की बात सुनने के बाद यह अभियान चलाने के लिये प्रेरित हुए 10वीं एवं 11वीं कक्षा के लगभग 50 विद्यार्थी स्कूल से छुट्टी होने के बाद इस अभियान पर निकल पड़ते हैं। इन बच्चों ने पूरे शहर में यह अभियान चलाने का संकल्प लिया है। इसके अलावा स्कूल प्रबंधन ने अभिभावकों से स्कूल की फीस चेक के जरिए जमा करने की अपील भी की है।

शहर के निजी स्कूल केके कान्वेट स्कूल के हुसैन मलकापुर ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात से हमे प्रेरणा मिली। इस अभियान के माध्यम से ऑनलाइन बैकिंग, मोबाइल ट्रांजेक्शन ऐप की जानकारी लोगों को देकर हमारी कोशिश है कि इससे उनके समय की बचत हो और वे असुविधा से भी बचें।'' स्कूल के संस्थापक लवेश राठौर ने बताया की स्कूल में हेल्प लाइन डेस्क की स्थापना की गई है। इसके माध्यम से स्कूल में आने वाले अभिभावकों को कैशलेस भुगतान सुविधा की जानकारी दी जा रही है। पालकों को चेक से भुगतान करने की अपील भी की गई है। इधर नोटबंदी के चलते परेशानी का सामना कर रहे लोगों ने स्कूली बच्चों की पहल का स्वागत किया है। मोतीपुरा के निलेश गुप्ता ने कहा, ‘‘बच्चों ने अच्छी पहल की है। बच्चे स्मार्ट फोन जल्दी सीख जाते हैं। इससे उन्हें लोगों को जानकारी देने में भी सुविधा होती है।''

Tags:    digital india 
Share it
Share it
Share it
Top