पुतिन के बचाव में उतरे ट्रंप, कहा-अमेरिका की गलतियों से कई लोग मारे गए 

पुतिन के बचाव में उतरे ट्रंप, कहा-अमेरिका की गलतियों से कई लोग मारे गए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप।

वाशिंगटन (भाषा)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने रूसी समकक्ष के कार्यों की तुलना अमेरिकी सरकार के कामों से करते हुए व्लादिमीर पुतिन का बचाव किया और कहा कि दुनियाभर में कई लोगों ने अमेरिका की गलतियों के कारण जान गंवाई है।

ट्रंप ने कहा, ‘‘हमने क्या किया है, इस पर भी नजर डालिए। हमने कई गलतियां की हैं। मैं शुरुआत से इराक में युद्ध के खिलाफ रहा हूं।'' रूस के राष्ट्रपति को हत्यारा कहे जाने पर अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘कई गलतियां की गई हैं। कई लोग मारे गए हैं। मेरा भरोसा कीजिए, आसपास बहुत से हत्यारे हैं।'' ट्रंप ने कहा, ‘‘कई हत्यारे हैं। हमारे यहां कई हत्यारे हैं। आपको क्या लगता है कि हमारा देश निर्दोष है?'' उन्होंने कहा कि वह आईएसआईएस के खिलाफ लड़ाई में रूस का सहयोग करना चाहेंगे।

ट्रंप ने कहा कि वह पुतिन का सम्मान करते हैं, लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि वह साथ-साथ ही चलेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं कई लोगों का सम्मान करता हूं लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि मैं उनके साथ बिल्कुल मिलकर चलूंगा। वह अपने देश का नेतृत्व कर रहे हैं। मैं कहता हूं कि रूस के साथ मिलकर काम नहीं करने से बेहतर है कि उसके साथ मिलकर काम किया जाए, खासकर यदि रुस आईएसआईएस और दुनियाभर में इस्लामी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमारी मदद करता हैं, जो एक बड़ी लड़ाई है।''

ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘क्या मैं पुतिन के साथ मिलकर काम करुंगा? मैं अभी इस बारे में नहीं जानता।'' राजनीतिक विरोधियों ने ट्रंप की इन टिप्पणियों का विरोध किया है और उनका मानना है कि ट्रंप ने इस बयान में अमेरिका की तुलना रूस से की।

सीनेट की विदेश मामलों की समिति के रैंकिंग सदस्य सीनेटर बेन कार्डिन ने कहा, ‘‘एक निरंकुश, हत्यारे शासन को हमारे देश के समान बताना अपमानजनक है, भले ही यह काम ट्रंप ने ही क्यों न किया हो। अमेरिका में सभी चयनित अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे राष्ट्रपति की खतरनाक बयानबाजी के खिलाफ बोलें।'' कार्डिन ने कहा कि ट्रंप ने अमेरिका को व्लादिमीर पुतिन और उनके हत्यारे शासन के समान बताकर यह स्पष्ट कर दिया कि वह इस बात में विश्वास नहीं करते कि अमेरिका असाधारण एवं अन्य देशों से अलग है। सदन में डेमोक्रेटिक नेता नैंसी पेलोसी ने भी रूस के प्रति नरम रख रखने के लिए ट्रंप की आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि हमें रूस के साथ उनके वित्तीय, निजी एवं राजनीतिक संबंधों को लेकर एफबीआई से जांच करानी चाहिए। हम उनकी कर विवरणी देखना चाहते हैं ताकि हमें पुतिन के साथ उनके संबंधों की सच्चाई पता चल सके, जिनकी वह सराहना करते हैं।''

First Published: 2017-02-06 15:09:31.0

Share it
Share it
Share it
Top