Top

ट्रंप ने कहा, आव्रजन से जुड़े नए आदेश पर हो रहा विचार 

ट्रंप ने कहा, आव्रजन से जुड़े नए आदेश पर हो रहा विचार डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन (भाषा)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह अगले सप्ताह तक आव्रजन से जुड़े एक नए शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर करने के बारे में विचार कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह यकीन भी जताया कि सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों पर लगाए गए आव्रजन प्रतिबंध को लेकर चल रही कानूनी लड़ाई वह जीत लेंगे।

एंड्रयूज वायु सैन्य अड्डे से फ्लोरिडा जाते समय एयर फोर्स वन में सवार संवाददाताओं से ट्रंप ने कहा, ‘‘हम उस लड़ाई को जीत लेंगे। दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि संवैधानिक तौर पर इसमें समय लगता है, लेकिन हम उस लड़ाई को जीत लेंगे। हमारे पास दूसरे भी बहुत से विकल्प हैं, जिनमें एक बिल्कुल नया आदेश लाना भी शामिल है।''

जब उनसे पूछा गया कि क्या उनका इरादा एक नया शासकीय आदेश जारी करने का है तो ट्रंप ने कहा, ‘‘हां, ऐसा हो सकता है। सुरक्षा के कारण हमें तेजी दिखाने की जरुरत है। इसलिए ऐसा संभव है।'' ट्रंप ने कहा कि वह नाइन्थ यूएस सर्किट कोर्ट के फैसले के सम्मान में अगले सप्ताह तक प्रतिक्रिया देने का इंतजार करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘शायद सोमवार या मंगलवार।'' ट्रंप ने कहा कि आव्रजन से जुड़े नए शासकीय आदेश में सुरक्षा उपाय शामिल होंगे।

ट्रंप ने कहा, ‘‘नए सुरक्षा उपाय। हमारे यहां बेहद कड़ी जांच होती है। मैं इसे सघन जांच कहता हूं और हम सुरक्षा के लिहाज से बेहद मजबूत होने जा रहे हैं। हमारे देश में आने वाले लोग वे होंगे, जो यहां अच्छे काम के लिए आना चाहते हैं।''

व्हाइट हाउस में बोलते हुए ट्रंप ने कहा, ‘‘हम अपने देश की अतिरिक्त सुरक्षा के लिए कुछ चीजों को बहुत तेजी से करेंगे। आपको यह अगले सप्ताह देखने को मिलेगा।'' अमेरिका की यात्रा पर आए जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ हुए संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने कहा, ‘‘इसके अलावा हम अदालती प्रक्रिया का पालन करना जारी रखेंगे और इस बात में कोई संदेह नहीं है कि अंतत: हम उस मामले में जीत हासिल करेंगे।''

ट्रंप ने कहा, ‘‘हम अपने देश को सुरक्षित रखने वाले हैं। हम अपने देश को सुरक्षित रखने के लिए हर जरुरी चीज करेंगे। हमने ऐसा फैसला लिया था, जो हमारे हिसाब से बेहद सफल रहेगा। इसे इतना समय लेना ही चाहिए था क्योंकि सुरक्षा एक प्राथमिक वजह है।'' उन्होंने कहा, ‘‘आज मैं यहां खड़ा हूं, इसके पीछे की एक प्रमुख वजह हमारे देश की सुरक्षा है। मतदाताओं ने यह महसूस किया कि मैं देश को सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा प्रदान करुंगा।''

ट्रंप ने यह संकेत देते हुए कहा कि अदालत में झटका लगने के बावजूद वह अमेरिका की सुरक्षा के लिए अपने प्रयास जारी रखेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे राष्ट्रपति पद पर बैठे हुए बहुत कम ही समय हुआ है लेकिन मैंने बहुत सी चीजें सीख ली हैं। ये वे चीजें हैं, जो आप एक पद विशेष यानी राष्ट्रपति पद पर रहते हुए ही सीख सकते हैं।'' ट्रंप ने कहा कि देश पर बड़े खतरे मंडरा रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको अभी ही बता देना चाहता हूं कि हम ऐसा होने नहीं देंगे। हम आगे बढ़ना और अपने देश को सुरक्षित बनाने के लिए काम करना जारी रखेंगे। यह तेजी से होगा और हम उन लोगों को अपने देश में आने नहीं देंगे, जो हमारी जनता को नुकसान पहुंचाने का इरादा रखते हैं।'' इसी बीच ट्रंप ने वाशिंगटन पोस्ट की उस खबर पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया, जिसमें कहा गया था कि उनके राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जनरल (सेवानिवृत्त) फ्लाएन ने अपने शपथ ग्रहण से पहले अमेरिका में रुसी राजदूत के साथ प्रतिबंधों पर चर्चा की थी।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.