जानें क्यों खास है व्हाइट हाउस, ट्रंप भी हुए आयरिश कारीगरी के कायल

जानें क्यों खास है व्हाइट हाउस, ट्रंप भी हुए आयरिश कारीगरी के कायलव्हाइट हाउस के उत्तर और दक्षिण हिस्से का दृश्य। सभी फोटो साभार :गूगल

यह काफी सुंदर घर है, बेहद सहज। यह बहुत खास है, खासकर जब आपको पता चलता है कि यहां अबा्रहम लिंकन रहते थे।
डोनाल्ड ट्रंप, न्यूयार्क टाइम्स को दिए साक्षात्कार में साझा किया व्हाइट हाउस का अनुभव

व्हाइट हाउस की खासियतें

  1. व्हाइट हाउस का डिजाइन आयरिश अमेरिकी आर्किटेक्ट जेम्स होबन ने तैयार किया था।
  2. इसकी आधारशिला अक्टूबर 1792 में रखी गई। इसे बन कर तैयार होने में आठ साल लगे।

व्हाइट हाउस का डाइनिंग हाल।

  • इसका निर्माण व्हाइट बलुआ पत्थर से हुआ है। रोचक तथ्य यह है कि इसकी जुड़वां इमारतें भी हैं।
  • एक ऐसी इमारत फ्रांस तो दूसरी आयरलैंड में है। फ्रांस में पर्यटक इसे देखते हैं। वहीं आयरलैंड में यह संसद परिसर में है।
  • इसमें 132 कमरे हैं, जिनमें 35 बाथरूम, 412 दरवाजे, 147 खिड़कियां, 28 अंगीठी, 8 सीढ़ियां और तीन लिफ्ट जुड़ी हुई हैं।
  • इस इमारत में डाइनिंग रूम, रेड रूम, ग्रीन रूम, ईस्ट रूम और साउथ पोर्टिको समेत कई देखने लायक जगह हैं।

कुछ ऐसा है ड्राइंग रूम।

  • इसके अगल-बगल खूब हरियाली है ताकि वातावरण को प्रदूषण मुक्त रखा जा सके।
  • सन् 1814 में ब्रिटिश सेना ने 'बर्निंग ऑफ वॉशिंगटन' हादसे के वक्त इसकी दीवारों को तोड़ दिया था।
  • यह 55,000 वर्ग फुट क्षेत्र में बना है। जमीन से ऊंचाई 70 फुट है जबकि चौड़ाई 170 फुट और गहराई 85 फुट है। कुलमिलाकर इसे 18 एकड़ जमीन पर बनाया गया।
  • किसी को अगर व्हाइट हाउस को देखना है तो उसे छह माह पहले आवेदन करना होता है।
  • यहां हर वक्त 5 खानसामा रहते हैं। इमारत में 140 मेहमानों के एकसाथा भोजन की व्यवस्था है।

यहां एकसाथ 140 लोगों के भोजन करने की व्यवस्था है।

  • सन् 1901 में इसे व्हाइट हाउस नाम दिया गया बाद में इसे प्रेसिडेंट पैलेस, राष्ट्रपति भवन आदि नामों से पुकारा जाने लगा।
  • यह छह मंजिला है। इसमें दो बेसमेंट हैं। दो फ्लोर आगंतुकों के लिए हैं और ऊपर के दो फ्लोर अमेरिकी राष्ट्रपति के परिवार के लिए है।
  • इसे रंगने के लिए 570 गैलन रंग की जरूरत पड़ती है। 1994 में इसे रंगने पर करीब एक करोड़ 72 लाख रुपए का खर्च आया था।

ट्रंप टावर भी कम शानदार नहीं

हालांकि ट्रंप का अपना घर भी कम शानदार नहीं है। लेकिन जब ट्रंन व्हाइट हाउस में रहने के लिए गए तो वहां का फोन उन्हें खूब पसंद आया। उन्होंने अपने नए निवास को ‘सुंदर' और ‘सहज' बताया।

ट्रंप टावर के बाहर का दृश्य
ट्रंप टावर में एेसे केबिन बने हैं।
ट्रंप टावर की इमारत के अंदर का दृश्य

Share it
Top