Uber ने टॉप एग्जीक्यूटिव को दिखाया बाहर का रास्ता, कंपनी से छिपाए थे सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोप

Uber ने टॉप एग्जीक्यूटिव को दिखाया बाहर का रास्ता, कंपनी से छिपाए थे सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोपअमित सिंघल।

न्यू यार्क (भाषा)। उबर में शीर्ष कार्यकारी स्तर पर कार्यरत भारतीय मूल के व्यक्ति को इस्तीफा देने के लिए कहा गया है क्योंकि उबर का कहना है कि इस अधिकारी ने यह नहीं बताया था कि उसने यौन प्रताड़ना की शिकायत के बाद गूगल से अपनी पिछली नौकरी छोड़ी थी। यह जानकारी मीडिया में आई एक रिपोर्ट में दी गई है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

अमित सिंघल ने 15 साल तक गूगल में काम करने के बाद जनवरी में उबर में वरिष्ठ उपाध्यक्ष (इंजीनियरिंग) के तौर पर काम शुरु किया था। गूगल में वह ‘सर्च' से जुड़े काम देखते थे।

प्रौद्योगिकी से जुड़ी खबरें देने वाली वेबसाइट रीकोड की एक खबर में कहा गया है कि उबर के सीईओ ट्रेविस केलेनिक ने सिंघल से कल इस्तीफा देने को कहा। उनसे ऐसा करने को तब कहा गया, जब यह पाया गया कि सिंघल ने उबर को यह नहीं बताया था कि उसने एक कर्मचारी द्वारा अपने उपर यौन शोषण का आरोप लगाए जाने के बाद गूगल छोड़ा था। गूगल ने आंतरिक जांच में पाया था कि कर्मचारी की ओर से सिंघल पर लगाया गया यौन प्रताड़ना का आरोप ‘विश्वसनीय' है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top