हाकिम के दौरे के डर से जल्दबाजी में मानक के विपरीत हो रहा आदर्श स्टेशन का काम

हाकिम के दौरे के डर से जल्दबाजी में मानक के विपरीत हो रहा  आदर्श स्टेशन का कामस्टेशन के बाहर बने पार्किंग में सूखे ईटों की जगह गीले ईंटों से इंटरलाकिंग की जा रही है।

सुजीत अग्रहरी, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

शोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर)। आदर्श रेलवे स्टेशन में शुमार शोहरतगढ़ रेलवे स्टेशन के सौंदर्यीकरण में ठेकेदारों की मनमर्जी हावी है और इन्हें कोई बोलने वाला नहीं है। अधिकारियों के होने वाले दौरों की जल्दबाजी में ठेकेदार कामों को मानक के विपरीत कर रहे हैं। स्टेशन के बाहर बने पार्किंग में सूखे ईटों की जगह गीले ईंटों से इंटरलाकिंग की जा रही है। इससे उसकी मजबूती ध्वस्त हो गयी है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

दरअसल, पूर्व रेलमंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे ने नवंबर 2013 में शोहरतगढ़ रेलवे स्टेशन को आदर्श स्टेशन के रूप में विकसित करने की घोषणा की थी। इसी के तहत इन दिनों स्टेशन पर तेजी से काम जारी है, लेकिन अधिकारी भी ठेकेदारों की मनमर्जी के आगे घुटने टेकते नजर आ रहे हैं। स्टेशन परिसर के बाहर बने पार्किंग में इंटरलाकिंग लगायी जा रही है, इसमें सूखे ईंटों की जगह गीले ईटों का प्रयोग धड़ल्ले से जारी है। इससे ईंटों की मजबूती ध्वस्त होने लगी है। वहीं ईंटों के मानक भी ठीक नहीं हैं। काम कर रहे मिस्त्री ने बताया कि अधिकारियों के दौरे के डर से जल्दबाजी में काम हो रहा है। इस लिए गीले ईंटों का उपयोग इंटरलाकिंग में किया गया है। इन ईटों में सीमेंट की जगह बालू की मात्रा अधिक होने से मजबूत भी नहीं है।

स्टेशन के कई अन्य काम भी मानक के विपरीत हुए हैं। कर्मचारी आवासों की ओर बने मार्ग की नींव की जोड़ाई भी बालू से ही कर दी गई है। नगर के रामसेवक गुप्ता, सतीश मित्तल, विक्की वर्मा, राहुल गुप्ता, शीतल उमर आदि ने बताया कि डीआरएम के दौरे पर मानक के विपरीत हुए कामों से अवगत कराया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top