ट्रंप के शासन में भारत के साथ रणनीतिक संबंध मजबूत करेगा अमेरिका

ट्रंप के शासन में भारत के साथ रणनीतिक संबंध मजबूत करेगा अमेरिकाडोनाल्ड ट्रंप।

वाशिंगटन (भाषा)। डोनाल्ड ट्रंप के तहत अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय के भारत-अमेरिका रणनीतिक संबंधों के सबसे ज्यादा मजबूत होने की संभावना है जिसमें रक्षा संबंधों और आतंकवाद रोधी सहयोग पर विशेष जोर होगा। ट्रंप भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बड़ा प्रशंसक होने की बात कह चुके हैं।

70 वर्षीय ट्रंप ने हाल में भारत को ‘‘एक महत्वपूर्ण और प्रमुख रणनीतिक सहयोगी'' करार दिया था तथा कहा था कि वह कूटनीतिक एवं सैन्य सहयोग को गहरा करने को लेकर आशान्वित हैं जो दोनों देशों के साझा हित में है। मोदी की आर्थिक नीतियों की तारीफ कर चुके अरबपति व्यवसायी ने कहा था कि वह भारत के प्रधानमंत्री के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।

ट्रंप ने न्यूजर्सी में एक कार्यक्रम में भारतीय-अमेरिकी समुदाय से वायदा किया था कि उनके रुप में भारत को व्हाइट हाउस में एक सच्चा मित्र मिलेगा। उन्होंने हिन्दू रिपब्लिकन कोअलिशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था, ‘‘मैं हिन्दुओं और भारत का बड़ा प्रशंसक हूं। यदि मैं राष्ट्रपति चुना जाता हूं तो भारतीय और हिन्दू समुदाय को व्हाइट हाउस में एक सच्चा मित्र मिलेगा।'' ट्रंप ने कहा था कि वह ‘‘कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में महान मित्र भारत'' के साथ हैं।

Share it
Share it
Share it
Top