Top

गायत्री प्रजापति को जेल में देखना चाहती हूं: नाबालिग पीड़िता  

गायत्री प्रजापति को जेल में देखना चाहती हूं: नाबालिग पीड़िता  लड़की ऐम्स के स्पेशल वॉर्ड में भर्ती है। 

नई दिल्ली (भाषा)। सोलह साल की वह लड़की लगातार डर के साये में जी रही है जिसके साथ उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री गायत्री प्रजापति और उनके साथियों ने कथित रूप से दुष्कर्म की कोशिश की थी और जिसकी मां के साथ कथित रूप से कई बार सामूहिक दुष्कर्म के आरोप इन लोगों पर हैं।

घटना के आठ महीने बाद भी लड़की सदमे से नहीं उबर पाई है और उसे दौरे पड़ते हैं। वह रात में अचानक उठकर बैठ जाती है और ऐम्स में अपने वॉर्ड से भागने की कोशिश करती है। लड़की को डर लगता है कि प्रजापति के लोग उसकी तलाश में आएंगे। वह मंत्री को सलाखों के पीछे देखना चाहती है और अपने और अपनी मां के लिए न्याय चाहती है।

उसने कहा, ‘मैं प्रजापति और उसके लोगों को सलाखों के पीछे देखना चाहती हूं जिन्होंने मेरे साथ दुष्कर्म का प्रयास किया था। उसने हमेशा के लिए हमारी जिंदगी बर्बाद कर दी है। हमें अपनी जान बचाने के लिए घर बार छोड़ना पड़ा।’ आरोप है कि लड़की की मां के साथ राज्य की सत्तारुढ़ समाजवादी पार्टी में पद दिलाने और खनन के ठेके दिलाने के वादे के साथ दो साल तक बार-बार सामूहिक बलात्कार किया गया। मां ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया और अदालत ने 18 फरवरी को इस मामले में मंत्री और उनके साथियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए जाने का आदेश दिया।

उत्तर प्रदेश पुलिस प्रजापति की तलाश में है, वहीं लड़की खुद के और अपनी मां के साथ बीती दुखद घटना से उबरने के लिए संघर्ष कर रही है। हालांकि उसने उम्मीद नहीं छोड़ी है और अगले साल दसवीं कक्षा की परीक्षा देना चाहती है।

उसने बताया, ‘इस साल मैं परीक्षा नहीं दे सकी। हमारी जिंदगी बर्बाद हो गई।’ एम्स के एक वार्ड में लड़की को रखा गया है जहां आम प्रवेश प्रतिबंधित है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.