देश के दूसरे हिस्सों में समय पर पहुंच सकता है मानसून: मौसम विभाग

देश के दूसरे हिस्सों में समय पर पहुंच सकता है मानसून: मौसम विभागgaon connection

नई दिल्ली (भाषा)। पिछले दो सालों की कम बारिश की वजह से तंगहाल खेती को अच्छे मानसून के पूर्वानुमान से नई उर्जा मिलने के बाद केरल तट पर इसके कुछ देर से पहुंचने की खबर से किसानों में मायूसी छा गई थी, उनकी इस मायूसी को दूर करने का प्रयास करते हुए मौसम विभाग ने कहा है कि मानसून के केरल तट पर देर से पहुंचने का अर्थ यह नहीं है कि यह देश के दूसरे हिस्सों में भी देर से पहुंचेगा, यह अन्य क्षेत्रों में समय पर भी पहुंच सकता है।

भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक लक्ष्मण सिंह राठौर ने कहा, ‘‘मानसून के कुछ दिन देर से आने का खेती किसानी पर कोई प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की आशंका नहीं है।'' उन्होंने कहा कि विभाग मानसून का पूर्वानुमान केरल तट पर इसके आने के आधार पर व्यक्त करता है और केरल तट पर मानसून के आने में कुछ देरी का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया। लेकिन केरल तट पर मानसून के देर से आने का अर्थ यह नहीं कि मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ जैसे क्षेत्रों में, जहां पानी की किल्लत है, भी मानसून देर से ही आए ऐसा कोई नियम नहीं है। मानसून दूसरे क्षेत्रों में समय पर भी पहुंच सकता है।''      

यह पूछे जाने पर कि मौसम विभाग ने पूर्व में अच्छे मानसून का पूर्वानुमान व्यक्त किया है, इसमें क्या कुछ बदलाव आ सकता है, राठौर ने कहा कि अभी तक अच्छा मानसून ही होने के संकेत है और इस विषय पर एक जून को संशोधित अनुमान पेश किये जाएंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top