देश में पर्याप्त अनाज, सूखे से घबराने की ज़रूरत नहीं: पासवान

देश में पर्याप्त अनाज, सूखे से घबराने की ज़रूरत नहीं: पासवान

जयपुर (भाषा)। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान ने कहा है कि देश में सूखे के हालात के बावजूद खाद्यान्न के भरपूर भंडार हैं और देशवासियों को घबराने की ज़रूरत नहीं है।

पासवान ने कहा कि दलहन का उत्पादन कम होने की आशंका को देखते हुए राज्य सरकारों को दालों की मांग से जल्द अवगत करवाने के लिए पत्र लिखा गया है ताकि मांग के अनुरूप दलहन का आयात किया जा सके और दालों की कीमतों को काबू में रखा जा सके।

खाद्य मंत्री ने कहा कि देश के कुछ राज्यों में सूखे के हालात हैं लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। छह सौ लाख टन अनाज के भंडार है जबकि आवश्यकता 549 लाख टन की है।

उन्होंने दलहन की कीमतों की चर्चा करते हुए कहा कि बीते साल 226 लाख टन दलहन की मांग थी लेकिन उत्पादन एक सौ सत्तर लाख टन होने के कारण दाल की कीमतें बढ़ीं। लेकिन सरकार ने दलहन का आयात कर और कालाबाजारी पर अंकुश लगाकर दालों की कीमतों पर काबू पा लिया।

पासवान ने कहा कि इस साल भी दलहन की दो सौ 35 लाख टन की मांग है लेकिन उत्पादन केवन एक सौ सत्तर लाख टन होने के कारण उत्पादन और मांग में करीब पैसठ लाख टन दलहन का अंतर रहेगा। भारत सरकार ने इस मांग को पूरा करने के लिए सभी राज्य सरकारों को दलहन की मांग के बारे में बताने के निर्देश दिये है ताकि समय रहते मांग के अनुरूप दलहन का आयात किया जा सके जिससे राज्यों की मांग को पूरा किया जा सके.

पासवान ने दलहन की कीमतों को लेकर किये गये एक प्रश्न के जवाब में कहा कि भारत सरकार राज्य सरकार द्वारा बतायी गयी दरों पर ही विश्वास करती है। उन्होंने कहा कि दलहन की कीमतों पर काबू पाने के लिए भारत सरकार ने बफर स्टॉक बनाने का फैसला किया है। 

Tags:    India 
Share it
Top