#WorldHeartDay : स्वस्थ दिल के लिए ये 12 चीजें दिल की बीमारियों में करती है फायदा

#WorldHeartDay : स्वस्थ दिल के लिए ये 12 चीजें दिल की बीमारियों में करती है फायदावर्ल्ड हार्ट डे

लखनऊ। आज वर्ल्ड हार्ट डे है। बदलते लाइफ स्टाइल से दिल के मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। सिर्फ उम्रदराज लोग ही नहीं अब तो नौजवान भी दिल की बीमारी के शिकार बन रहे हैं। तनाव दिल का सबसे बड़ा दुश्मन है है। आज की भागदौड़ वाली जीवनशैली में लोगों में तनाव कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। इसलिए इस बीमारी से पूरी तरह बचना तो मुश्किल है लेकिन जहां तक संभव हो इससे दूरी बनाए रखें। आज हम आपको 10 ऐसी बाते बताने जा रहे हैं जो दिल की बीमारी में काफी फायदेमंद हैं।

अदरक

अनेक आधुनिक रिसर्च परिणाम बताते हैं कि अदरक हृदय के लिए भी एक महत्वपूर्ण औषधि है। क्लीनिकल अध्ययन से प्राप्त परिणामों पर गौर करा जाए तो जानकारी मिलती है कि प्रतिदिन मात्र 5 ग्राम सूखे अदरक का सेवन यकृत में ट्राइग्लिसराइड और एलडीएल (बुरा) कोलेस्ट्रोल के उत्पादन को कम करने में सहायक होता है। अदरक हार्ट अटैक होने से बचाने में भी मदद करता है क्यूंकि यह ब्लड प्लेटलेट्स के जमाव और आपस में चिपकने की प्रक्रिया को रोकता है ब्लड प्लेटलेट्स का जमा होना वास्तव में हार्ट अटेक या हृदयाघात का कारण बनता है।

ये भी पढ़ें:- दिल के दौरे के बाद अकेले रहना मौत को दावत देने के बराबर

तिल

मध्य प्रदेश के मंडला जिले के एक बुजुर्ग जड़ी-बूटी जानकार हीरन लाल से चर्चा करते हुए मुझे काले तिल के बारे में बड़ी ही रोचक जानकारी दी। सन 2012 में थाईलैंड की माहिडोल यूनिवर्सिटी के कुछ वैज्ञानिक ने हीरन लाल जैसे जानकारों के काले तिल से जुड़े पारंपरिक ज्ञान पर आधारित कुछ दावों की पुष्टि कर दी थी। वैज्ञानिकों ने 50 की उम्र के आस-पास के 30 पुरुषों और महिलाओं को सम्मिलित किया गया। शोध के परिणामों से ज्ञात हुआ कि तिल दिए गए प्री-हाईपरटेंशन के रोगियों के ब्लड प्रेशर में काफी चमत्कारिक तरीके से गिरावट या कमी आयी। महज चार हप्तों तक प्रतिदिन 2.5 ग्राम तिल के सेवन से इन रोगियों का ब्लड प्रेशर 132 एमएमएचजी से 121 एमएमएचजी हो गया जबकि दूसरे समूह के रोगियों के प्री-हाईपरटेंशन कंडिशन में कोई बदलाव नहीं आया।

ये भी पढ़ें:- योगाभ्यास हार्ट अटैक से बचने में सहायक

संतरा

मशहूर फिटनेस ट्रेनर योएल हार्पर के मुताबिक, "संतरे में मौजूद पेक्टिन हृदय के ऊतकों को नुकसान पहुंचा सकने वाले गैलेक्टिन-3 प्रोटीन को उदासीन करने में मदद करता है."

चिया के बीज

पोषण विशेषज्ञ जॉय बाउअर बताते हैं, "चिया के बीज में ओमेगा 3 फैटी एसिड और फाइबर होते हैं. फाइबर कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है. यह चुंबक की तरह काम करता है जो शरीर से अपने साथ कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकाल देता है."

ये भी पढ़ें:- दिल को बीमारियों से बचाना है, काले तिल का इस्तेमाल शुरु कीजिए

पॉपकॉर्न

टीवी देखते हुए पॉपकॉर्न खाने का अपना ही मजा है और इससे भी ज्यादा मजे की बात ये कि ऐसा करना आपके दिल के लिए भी अच्छा है. पोषण विशेषज्ञ समांथा कासेटी के मुताबिक, "पॉपकॉर्न मक्के के दानों से बनता है जिनमें पॉलीफेनॉल्स की पर्याप्त मात्रा होती है. यह एंटी ऑक्सिडेंट है जिससे दिल स्वस्थ रहता है."

शहद

पोषण सलाहकार किर्स्टेन हेले के मुताबिक, "मिठास के मामले में अक्सर शहद की तुलना चीनी से की जाती है. लेकिन शहद प्राकृतिक मिठास देता है जो दिल के लिए अच्छा है. कुछ शोध यह भी दिखाते हैं कि शहद हृदय के कोलेस्ट्रॉल स्तर को भी कम कर सकता है."

दालें

फिटनेस ट्रेनर योएल हार्पर बताते हैं, "दालें हृदय के लिए अच्छी हैं. इनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड, विलयनशील फाइबर और कैल्शियम होता है."

ये भी पढ़ें:- ग्रामीण महिलाओं में दस गुना बढ़ी दिल की बीमारियां

अंडा

स्वास्थ्य विशेषज्ञ अली शापिरो के मुताबिक, "अंडे के पीले भाग में मिटामिन के2 होता है, जो कि ट्रैफिक पुलिस की तरह काम करता है. यह कैल्शियम को हड्डियों की ओर भेजता है जबकि हृदय की धमनियों की दीवार को कठोर नहीं होने देता."

सार्डीन मछली

जॉय बाउएर बताते हैं कि सार्डीन मछली दिल के लिए अच्छी है, "इनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड की प्रचुर मात्रा होती है. यह खून में ट्राईग्लिसराइड्स की मात्रा कम करता है, जिससे रक्त धमनियां ब्लॉक नहीं होतीं और उनमें सूजन भी नहीं होती."

डार्क चॉकलेट

चॉकलेट के शौकीन लोगों को यह बात बहुत पसंद आएगी. स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉक्टर नैन्सी स्नाइडेर्मा बताती हैं, "डार्क चॉकलेट में पाए जने वाले फ्लेविनॉयड दिल को कार्डियोवैस्कुलर बीमारियों से बचाते हैं, लेकिन इसकी अति भी अच्छी नहीं."

अवोकाडो

समांथा कासेटी बताती हैं, "अवोकाडो में खूब वसा होती है. लेकिन इसमें मौजूद मोनोसैचुरेटेड फैट अस्वस्थ करने वाले एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं."

कॉफी

पोर्टलैंड के एवरग्रीन हेल्थ सेंटर की संस्थापक डॉक्टर समांथा ब्रोडी के मुताबिक, "दिन में दो कप कॉफी दिल की बीमारियों के खतरे को दूर रखती है और संवहनी क्रियाशीलता को बेहतर करती है."

(साभार - डीडब्लू वेबसाइट)

ये भी पढ़ें:- #WorldHeartDay हां, दिल टूटता है ... अब तो साइंस भी मानता है

ये भी पढ़ें:- कैंसर से जान बचाई जा सकती है, बशर्ते आप को इसकी सही स्टेज पर जानकारी हो, जानिए कैसे, देखे वीडियो

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top