यूपी: बाराबंकी में दर्दनाक सड़क हादसे में बिहार के 18 लोगों की मौत, सीएम और पीएम ने जताया दुख

हरियाणा से बिहार जा रही एक डबल डेकर वॉल्बो बस बाराबंकी जिले में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई। जबकि 19 लोग घायल हो गए। इस संबंध में पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर 9454417464 जारी किया है।

यूपी: बाराबंकी में दर्दनाक सड़क हादसे में बिहार के 18 लोगों की मौत, सीएम और पीएम ने जताया दुख

27 जुलाई की रात करीब डेढ़ बजे हुआ हादसा। फोटो- अरेंजमेंट

बाराबंकी/लखनऊ (उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में बीती रात दर्दनाक हादसे में बस में सवार 18 लोगों की जान चली गई जबकि 19 से ज्यादा लोग घायल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दर्दनाक हादसे पर दुख जताया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने घायलों के बेहतर इलाज के निर्देश दिए हैं। बस में सवार ज्यादातर लोग बिहार के थे।

राजधानी लखनऊ से करीब 70 किलोमीटर दूर बाराबंकी जिले के रामसनेही घाट में कल्याणी नदी के पास हादसा उस वक्त हुआ,जब एक्सल टूटने के बाद बस किनारे खड़ी थी। बस में सवार बिहार के रहने वाले थे जो हरियाणा से वापस अपने घरों को जा रहे थे, हादसा रात करीब डेढ़ बजे हुआ। मृतकों में ज्यादातर लोग बिहार में सहरसा, सीतामढ़ी, सुपौल, मधेपुरा के रहने वाले थे।

हादसे के बारे में बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने कहा, "अयोध्या बाराबंकी बॉर्डर पर कल्याणी नदी के पास एक डबल डेकर वॉल्बो बस खराब होने के बाद खड़ी थी, इसी दौरान पीछे स एक ट्रक ने टक्कर मार दी। जिसमें 18 लोगों की मौत हो गई और 10 लोग गंभीर रुप से घायल हैं। घायलों का इलाज कराया जा रहा है। इस संबंध में एक कंट्रोलरुम नंबर भी जारी किया गया है। जो सुरक्षित लोग हैं उन्हें प्रशासन जल्द बिहार भेजना का इंतजाम कर रहा है।"

दर्दनाक हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, "यूपी के बाराबंकी में हुए सड़क हादसे की खबर से बहुत दुखी हूं। शोकाकुल परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। अभी सीएम योगी जी से भी बात हुई है। सभी घायल साथियों के उचित उपचार की व्यवस्था की जा रही है।"


बाराबंकी पुलिस ने इस संबंध में एक हेल्प लाइन नंबर 9454417464 भी जारी किया है, जिस घायल, मृतक और हादसे से संबंधित जानकारी ली जा सकती है।

प्रदेश सरकार ने हादसे पर दुख जातते हुए घायलों को बेहतर इलाज, पीड़ितों को उनके घर तक पहुंचाने और बाकी इंतजाम करने के निर्देश हैं। सीएम योगी ने कहा, "जनपद बाराबंकी के रामसनेहीघाट क्षेत्र में घटित सड़क हादसे में लोगों की मृत्यु अत्यंत दुःखद है। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।"


पुलिस अधिक्षक ने इस संबंध में बताया कि "पांच थानों की पुलिस लगाकर मृतकों का पंचायत नामा कराया जा रहा है। डीएम साहब के निर्देश पर कोशिश जारी है की जल्द से जल्द पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिए जाएं। जो लोग सुरक्षित हैं उन्हें रहने के इंतजाम किए गए हैं।" क्रेन जल्द न पहुंचने के संबंध में उन्होंने कहा, "राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की क्रेन मौजूद नहीं थी, जो क्रेन हम लोगों ने मंगवाई उसका एक्सेल टूट गया। फिर दूसरे इंतजाम किए गए। दो अलग से क्रेन मंगवाई गईं जिसके बाद रेस्कयू ऑफरेशन किया गया।"

बाराबंकी के जिलाधिकारी डॉ. आदर्श सिंह ने हादसे में हताहत लोगों के प्रति संवेदना जताते हुए बताया, "सुरक्षित यात्रियों को प्रत्येक प्रकार की राहत/सुविधा सहित निःशुल्क गंतव्य तक पहुंचाने हेतु मौके काम किया जा रहा है। पीड़ितों की हर तरह से मदद की जाएगी।"

इनपुट- वीरेंद्र सिंह

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.