मुंबई से लापता हुए 26 पाकिस्तानी, तलाश करने में जुटी महाराष्ट्र एटीएस

मुंबई से लापता हुए 26 पाकिस्तानी, तलाश करने में जुटी महाराष्ट्र एटीएसमुंबई से 26 पाकिस्तानी लापता।

मुंबई। पिछले दो-तीन सप्ताह से 26 पाकिस्तानी मुंबई से लापता हैं। सूचना मिलते ही पुलिस ने इनकी तालाश शुरू कर दी है। ये पाकिस्तानी पिछले 10 सालों से मुंबई में रह रहे थे।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक ये इन 26 लोगों में से किसी ने भी अपने बारे में कोई जानकारी नहीं मुहैया कराई थी। इन 26 में से एक शख्स करीब 10 सालों से जुहू में रह रहा था और इसी इलाके में उसकी चाय की दुकान थी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

एचटी की रिपोर्ट के अनुसार भारत में आने वाले पाकिस्तानियों के लिए जरूरी सी-फॉर्म में इन सभी ने उन लोगों के बारे में जानकारी नहीं दी थी जिनसे वो मिलने आए थे और जहां वो ठहरे थे। खुफिया एजेंसियों ने जब इन पाकिस्तानियों को तलाश शुरू की तो ये जानकारी सामने आयी।

महाराष्ट्र की एंटी-टेररिज्म स्क्वैड (एटीएस) इन पाकिस्तानियों की तलाश कर रहा है। एटीएस को इन पाकिस्तानियों के लापता होने के बारे में खुफिया एजेंसियों से सुराग मिला। रिपोर्ट के अनुसार भारतीय एजेंसियों को ये सुराग पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) में मौजूद अपने जासूसों से मिला।

सी-फॉर्म में पाकिस्तान से भारत आने वालों को अपने रुकने की जगह, वह कितने दिन रुकेगा, पासपोर्ट और वीजा की कॉपी और आवासीय परमिट की प्रति के साथ बतानी होती है। इन 26 पाकिस्तानियों के सी-फॉर्म अधूरे पाने के बाद महाराष्ट्र एटीएस ने उनकी तलाश और सघन कर दी। महाराष्ट्र एटीएस मुंबई के सभी होटलों और लॉजों में इन लोगों की तलाश कर रही है।

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इंडियन मुजाहिद्दीन (आईएम) के कैडरों ने पिछले कुछ महीनों में मुंबई में रेकी की थी। रिपोर्टे के अनुसार इन कैडरों के कर्नाटक के भटकल का निवासी होने का संदेह है। माना जाता है कि आईएम के संस्थापक रिजाय शाहबंदरी उर्फ रियाज भटकल और उसका बड़ा भाई इकबाल अब पाकिस्तान में रहते हैं। भटकल के ही रहने वाले सुल्तान और शफी अरमर को भारत में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का मुख्य रिक्रूटर माना जाता था। माना जाता है कि ये दोनों ही कुछ महीने पहले सीरिया में मारे गये थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top