70 हजार अफसर, 27 हजार घंटे, 220 मीटिंग... और जीएसटी बना हक़ीकत

70 हजार अफसर, 27 हजार घंटे, 220 मीटिंग... और जीएसटी बना हक़ीकतजीएसटी

नई दिल्ली। देश में आज से एक जैसा टैक्स सिस्टम यानी जीसटी लागू हो गया है। आजादी के बाद का सबसे बड़ा टैक्स रिफॉर्म GST अब हकीकत बन गया है। इतने बड़े बदलाव को हकीकत बनाने के पीछे कई अहम लोगों और अफसरों का योगदान रहा।

70 हजार अफसरों की हुई स्पेशल ट्रेनिंग

जिसमें केंद्र सरकार से लेकर देश के सभी राज्यों के अफसर शामिल रहे हैं। यही नहीं जीएसटी सही तरीके से लागू हो उसके लिए 70 हजार के करीब अफसरों को स्पेशल ट्रेनिंग दी गई है।

18 वर्ष का लग गया समय

जीएसटी पर पहला पुख्ता विचार 1999 में अटल बिहारी बाजपेयी की सरकार के समय में आया था। लेकिन इसे हकीकत बनने में 18 साल लग गए। इस दौरान एनडीए से लेकर यूपीए सरकार ने अपने लेवल पर जीएसटी की दिशा में कदम बढ़ाया। लेकिन जीएसटी को हकीकत बनने का भरोसा साल 2016 के बाद काफी तेजी से हुआ।

जीएसटी काउंसिल का किया गया गठन

मोदी सरकार ने जीएसटी को जल्द से जल्द लागू करने के लिए राज्यों की सहमति से सितंबर में जीएसटी काउंसिल का गठन कर लिया। जिसके बाद से उसकी 18 मीटिंग हुईं। जिनके जरिए हर मीटिंग में जीएसटी का रास्ता मजबूत होता गया।

27 हजार घंटे

सितंबर 2016 में काउंसिल के गठन के बाद अब तक 27 हजार से ज्यादा घंटे की मीटिंग हुईं। जिसमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार के वित्त मंत्रियों की मीटिंग के साथ-साथ, अफसरों की मीटिंग भी शामिल है। इनके ही जरिए जीएसटी के रेट से लेकर जीएसटी लागू करने का पूरा प्रोसेस तय किया गया।

220 से ज्यादा हुई मीटिंग

जीएसटी को हकीकत बनाने में सिर्फ कुछ सीनियर मिनिस्टर्स या सीनियर अफसरों का ही हाथ नहीं रहा। इसके पीछे केंद्र और राज्यों के अफसरों की मैराथन मीटिंग का भी अहम रोल रहा। 10 महीने में 220 से ज्यादा मीटिंग हुई है। इन मीटिंग्स में ही ये तय हुआ कि जीएसटी के चार स्लैब रेट और सर्विस टैक्स रेट्स तय कैसे किए जाएं। किन प्रोडक्ट्स को जीएसटी में रखें और किन्हें इसके बाहर रखा जाए। ये इन्हीं मीटिंग्स में तय हुआ। इन्हीं मीटिंग्स में इनके ड्राफ्ट तैयार किए गए।

70 हजार अफसरों की ट्रेनिंग

जीएसटी का ड्राफ्ट तय होने के बाद इसके एग्जीक्यूशन को लेकर सबसे ज्यादा विचार करना पड़ा। कारोबारियों को किसी तरह की दिक्कत न हो इसलिए इसके लिए करीब 70 हजार अफसरों को जीएसटी की ट्रेनिंग दी गई। उन्‍हें इसके हर पहलू से अवगत कराया गया।

ये भी पढ़ें:- GST : बीएमडब्ल्यू से चलने वाले व्यक्ति और किसानों पर एक जैसा कर

आ गया जीएसटी : आज से भारत में एक देश , एक टैक्स ,एक बाजार

GST : जीएसटी देश भर में लागू , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताई नई परिभाषा Good & Simple Tax

घोड़ों, गधों और खच्चर पर भी लगेगा GST !

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top