कोर्ट में 5 साल की बच्ची ने गुड़िया के जरिए बयां की अपने साथ हुई हैवानियत

कोर्ट में 5 साल की बच्ची ने गुड़िया के जरिए बयां की अपने साथ हुई हैवानियतप्रतीकात्मक फोटो।

नई दिल्ली। यौन उत्पीड़न की शिकार पांच साल की एक बच्ची ने गुड़िया के जरिये अपने साथ हुए गलत कामों के बारे में बताया, जिसपर दिल्ली उच्च न्यायालय ने पूरा भरोसा जताते हुए एक व्यक्ति को पांच साल जेल की सजा सुनाई। अदालत ने कहा कि लड़की ने गुड़िया के गुप्तांगों की तरफ इशारा करके यह संकेत दिया कि उसके साथ क्या हुआ था।

हाईकोर्ट में जस्टिस एसपी गर्ग ने इसे अहम मानते हुए यौन शोषण के दोषी की याचिक खारिज करते हुए उसकी सजा को कायम रखा है। ट्रायल कोर्ट में बच्ची ने गुड़िया के जरिए बताया कि किसा तरह उसके साथ एक 23 वर्षीय हूनी नामक युवक ने वहशी हरकत की थी।

बचाव पक्ष के वकील ने बच्ची से पूछे अश्लील सवाल

कोर्ट ने कहा कि फाइल देखने से पता चलता है कि बचाव पक्ष के वकील ने बच्ची से किस तरह के शर्मनाक, अपमानजनक, गंदे और अश्लील सवाल पूछे थे जो शर्मनामक है। कोर्ट ने कहा कि बच्ची ने गुड़िया से घटना का उल्लेख कर दिया है। ऐसे में दोषी पर किसी भी प्रकार की सहानुभूति का हकदार नहीं है।

2014 का है मामला

यह घटना जुलाई 2014 की है। जब लड़की अपने 10 वर्षीय भाई के साथ स्कल जा रही थी तो आरोपी हूनी ने बच्ची के भाई को दस रुपए दिए और दुकान से कुछ लाने को कहा। जब भाई दुकान गया तो हूनी ने बच्ची का अपहरण कर उसे दिल्ली में नरेला ले गया और वहां उसका यौन उत्पीड़न किया। इसके बाद बच्ची को उसके घर के पास छोड़ दिया। जब बच्ची बिना कपड़े के घूम रही थी तो एक पड़ोसी ने उसे देखा और उसके घर वालों के सुपुर्द किया।

सीसीटीवी के जरिए पकड़ा गया आरापी

बच्ची ने घर पर आ कर अपनी मां को घटना के बारे में बताया। इसके बाद परिजनों ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी को उस क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की मदद से गिरफ्तार किया गया। आरोपी ने बच्ची का जिस जगह से अपहरण किया वो सब सीसीटीवी में कैद हो गया था।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top