आजादी के 70 साल पूरे होने पर जानिये देश की 70 उपलब्धियां

आजादी के 70 साल पूरे होने पर जानिये देश की 70 उपलब्धियां1948 लंदन ओलंपिक

लखनऊ। मैं हिन्दुस्तान हूं आज मुझे आजाद हुए 70 साल गुजर गये हैं। इन 70 वर्षों में मैंने बहुत से उतार चढ़ाव देखे। मेरे देशवासियों ने जहां बंटवारें का दंश झेला तो वहीं युद्ध में अपने जवानों को शहीद होते भी देखा है मैनें। इतना ही नहीं मेरे देशवासियों को सुकून से रहना कुछ लोगों को रास नहीं आया तो उन्होंने आतंक के साये में हमें डराने की कोशिश की।

लेकिन बावजूद इसके मेरे देशवासियों के कदम लड़खड़ाए नहीं। इतना कुछ होने के बावजूद मुझसे प्रेम करने वाले देशभक्तों ने विज्ञान, खेल, चिकित्सा और फिल्म जगत में अपना परचम लहराकर मेरा नाम रौशन किया। आज मुझे 70 साल हो चुके है मैं आज आपको 70 साल की उपलब्धियों के बारे में बताता हूं.......

ये भी पढ़ें- ‘आज़ाद भारत में रौंदे जा रहे आज़ादी के सुबूत, सचेत हो जाए युवा पीढ़ी’

1947 में जैसे ही भारत आजाद हुआ उसके ठीक एक साल बाद यानि साल 1948 में पुरूष हॉकी टीम ने लंदन ओलंपिक जीतकर नाम रौशन किया। साल 1949 में मुथम्मा बेलीप्पा भारतीय प्रशासनिक सेवाओं को उत्तीर्ण करने वाली पहली महिला बनीं। फिर लगातार साल 1950 में अपने संविधान को एक पूर्ण गणराज्य के रूप में अपनाया गया। मेरी उपलब्धियां लगातार मेरे देशवासियों की वजह से बढ़ती जा रही थी।

1951 में एशियाई खेलों के पहले संस्करण की सफलता पूर्वक मेजबानी की। साल 1952 देशवासियों द्वारा पहला चुनाव आयोजित कराया गया। उस प्रथम मतदान में 170 मिलियन लोगों ने मतदान किया था। साल 1953 में फ्लैग करियर इंडियन एयरलाइंस की स्थापना हुई। 1954 में ट्राम्बे में मैं पहला परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम लॉन्च करने वाला राष्ट्र बना। 1955 में पहला कम्प्यूटर 'एचईसी 2 एम' कोलकाता में स्थापित किया गया था।

1956 में भारतीय टीम ने मेलबर्न ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता। साल 1957 में आरती साहा पहली एशियाई बनीं जिन्होंने सफलता पूर्वक इंग्लिश चैनल को पार किया। 1958 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान की स्थापना हुई। अगर सिने जगत की बात करूं तो 1959 में सत्यजीत रे के 'अपूर संसार' ने भारतीय सिनेमा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचा दिया। साल 1960 में मिल्खा सिंह ओलंपिक रिकॉर्ड को तोड़ने वाले पहले भारतीय बने।

(तस्वीरें ocasia.org, photodivision.gov.in, विकीपीडिया/ कॉमन्स, सिएटल पब्लिक लाइब्रेरी से)

लगातार हर साल मेरे देशवासियों ने हर मुश्किल को स्वीकार करते हुए मुझे दुनिया के अन्य देशों के सामने झुकने नहीं दिया। उपलब्धियां साल दर साल बढ़ती ही जा रहीं थी। 1961 में गैर-संरेखित देशों की पहली बैठक का नेतृत्व किया गया। 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतकर भारत की फुटबॉल टीम अपनी सर्वोच्च रैंकिंग पर पहुंची। साल 1963 में उस वक्त के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने भाखड़ा नांगल बांध परियोजना दी। 1964 में पहले भारतीय जेट ट्रेनर 'एचजेटी-16' ने उड़ान भरी। 1965 में भारत की खाद्यान्न आयात निर्भरता को खत्म करने के लिए 'हरित क्रांति' शुरू हुई थी।

ये भी पढ़ें- मोदी ने गोरखपुर के अस्पताल में हुई बच्चों की मौत पर जताया शोक

1966 में रीता फारिया मिस वर्ल्ड का ताज जीतने वाली पहली भारतीय बन गईं। साल 1967 में पंडित रवीशंकर ने पहला ग्रेमी पुरस्कार जीता। साल 1968 में डॉ. प्रोफल्ला सेन दुनिया में तीसरे और एशिया के पहले हार्ट ट्रांसप्लांट सर्जन बने। 1969 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की स्थापना हुई थी।

साल 1971 में भारत ने बांग्लादेश को सैन्य हस्तक्षेप के माध्यम से पाकिस्तान से स्वतंत्रता प्राप्त करने में मदद की। 1973 में भारत का सबसे सफल पशु संरक्षण कार्यक्रम प्रोजेक्ट टाइगर शुरू किया गया। 1974 में एक सफल शांतिपूर्ण परमाणु परीक्षण ने दुनिया को आश्चर्यचकित किया, जिसने भारत को अपने परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम में तेजी लाने में मदद की। 1975 में आर्यभट्ट के प्रक्षेपण के साथ, भारत ने अपने उपग्रहों के साथ राष्ट्रों के एक विशिष्ट क्लब में प्रवेश किया।

1976 में बंधुआ श्रम का उन्मूलन भारत में सामाजिक न्याय प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम था। साल 1977 में मेलबर्न में माइकल फरेरा ने विश्व बिलियर्ड्स चैम्पियनशिप जीती। 1978 में भारत का पहला टेस्ट-ट्यूब बेबी 'दुर्गा' का जन्म हुआ। 1979 में सुप्रीम कोर्ट ने जनहित याचिका को वैध ठहराया। दुनिया में सबसे लंबे समय तक चलने वाले चेचक टीकाकरण कार्यक्रम का उन्मूलन देश में 1980 में हुआ।

भारतीय वैज्ञानिकों ने 1981 में 16 साल की कड़ी मेहनत के बाद अपनी पहली दवा टॉमरेल संश्लेषित की।1982 में भारत ने नई दिल्ली में एक शानदार एशियाड खेलों की मेजबानी की। 1983 में कपिल देव की टीम ने लंदन में क्रिकेट विश्व कप जीता। 1984 में अंतरिक्ष की धरती पर कदम रखने वाले पहले भारतीय राकेश शर्मा ने लाखों लोगों के सपने पूरे किए। 1985 में भारत फास्ट ब्रीडर परमाणु रिएक्टर हासिल करने वाला छठा देश बना।

ये भी पढ़ें- #IndependenceDay: अंग्रेजों ने इस गीत को प्रतिबंधित कर दिया था, सुनिए मालिनी अवस्थी की अावाज में

1986 में आयोजित एशियाई खेलों में पीटी ऊषा ने ऐतिहासिक जीत हासिल की। 1987 में सुनील गावस्कर टेस्ट मैचों में 10000 रन बनाने वाले एकमात्र क्रिकेटर बने। 1988 में एशिया के पहले रिमोट सेंसिंग उपग्रह 'आईआरएस-1 ए' को लॉन्च किया गया। 1989 में केरल के कोट्टयम को भारत का पहला साक्षर जिला बनने का गौरव प्राप्त हुआ। 1990 में कुवैत और इराक से 1 लाख 10 हजार भारतीयों की निकासी, दुनिया की सबसे बड़ा नागरिक निकास के रूप में प्रचलित हुई।

1991 में भारत ने व्यापक सुधारों के साथ आर्थिक संकट का जवाब दिया। सिर्फ दो साल बाद अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत को दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उजागर किया। फिल्मकार सत्यजीत रे को 1993 में ऑस्कर अवॉर्ड्स से सम्मानित किया गया। 1994 में सुष्मिता सेन और ऐश्वर्या राय ने मिस यूनिवर्स और मिस वर्ल्ड खिताब अपने नाम किया। 1995 में भारतीयों ने इंटरनेट पर लॉग इन किया।

1996 में अटलांटा ओलंपिक में 23 वर्षीय लेन्डर पेस ने कांस्य पदक जीता। साल 1997 में अरुंधति राय को 'द गॉड ऑफ स्मॉल थिंग्स' उपन्यास के लिए बुकर पुरस्कार मिला। अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने 1998 में नोबेल अवॉर्ड जीता। 1999 में इन्फोसिस न्यूयार्क के नास्डेक में सार्वजनिक तौर पर कारोबार करने वाला पहला भारतीय शेयर बना। शतरंज ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद ने 2000 में विश्व शतरंज चैंपियनशिप जीतकर देश का नाम रोशन किया।

2001 में भारत के पहले स्वदेशी निर्मित लड़ाकू जेट 'तेजस' ने बेंगलुरु से उड़ान भरी। 2002 में भारतीय क्रिकेट टीम ने लंदन में नेटवेस्ट सीरीज का फाइनल जीता। सानिया मिर्जा 2003 में विंबलडन डबल्स ट्राफी जीतने वाली पहली भारतीय बनी। राज्यवर्धन राठौर ने ओलंपिक 2004 में रजत पदक जीता। 2005 में सूचना का अधिकार अधिनियम पास किया।

(तस्वीरें static.sportskeeda.com, iitkgp.ac.in, विकिपीडिया/ कॉमन्स, एनडीटीवी अभिलेखागार से)।

ये भी पढ़ें- सुदर्शन चक्र धारी मोहन से लेकर चरखाधारी मोहन तक हमारी सांस्कृतिक ऐतिहासिक विरासत : मोदी

2006 में परिमरंजन नेगी अंतर्राष्ट्रीय शतरंज ग्रैंडमास्टर बने, सबसे कम उम्र में शतरंज ग्रैंडमास्टर कहलाने वाले पहले एशियाई बने। प्रतिभा पाटिल को 2007 में भारत की पहली महिला राष्ट्रपति के रूप में चुना गया। साल 2008 में शूटर अभिनव बिंद्रा ने ओलंपिक स्वर्ण पदक हासिल किया, दूसरी ओर भारत के सफल चंद्र मिशन 'चंद्रयान -1' ने दुनिया को चौंका दिया। दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश में समलैंगिकता को 2009 में दंडित किया गया। 2010 में शिक्षा का अधिकार मौलिक अधिकार बना दिया गया था।

2011 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 27 वर्षों बाद भारत ने 'क्रिकेट विश्व कप' जीता। 2012 लंदन ओलंपिक में भारत ने 6 पदक अपने नाम किए। 2013 में मार्स ऑर्बिटर मिशन या मंगल ग्रह की यात्रा के दौरान 'मंगलयान' का शुभारंभ किया गया। भारत को विश्व स्वास्थ्य द्वारा 2014 में 'पोलियो मुक्त' घोषित किया गया था। टेनिस प्लेयर सानिया मिर्जा और शटलर सानिया नेहवाल 2015 में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनीं।

जून 2016 में भारत ने वायु सेना में महिलाओं के लड़ाकू विमानों के पहले बैच को शामिल किया और 3 अगस्त 2017 को भारत ने माल और सेवा कर (GST) के रूप में 25 वर्षों में अपना सबसे बड़ा कर सुधार शुरू किया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top