महाराष्ट्र के एक गांव को है कुलभूषण के लौटने का इंतजार

महाराष्ट्र के एक गांव को है कुलभूषण के लौटने का इंतजारकुलभूषण जाधव।

मुंबई (भाषा)। पश्चिमी महाराष्ट्र के एक छोटे से गांव के लोगों को उम्मीद है कि तमाम मुश्किलों के बावजूद पाकिस्तान में मौत की सजा पाने वाले कुलभूषण जाधव अपने घर लौट आयेंगे। जाधव के पैतृक गांव सतारा जिले के जावली में लोगों ने आज पाकिस्तान की निंदा की और जाधव की रिहाई की मांग की।

भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी को सोमवार को पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने ‘‘जासूसी'' के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी। एक गांववाले ने कहा कि जाधव ने जावली स्थित अपने खेत में एक घर बनवाया था और वे साल में दो-तीन बार गांव आते थे। ग्रामीण ने कहा, ‘‘भारत सरकार को किसी भी कीमत पर उन्हें रिहा कराना चाहिए।

ये भी पढ़ें- राज्यसभा में सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को चेताया, अगर कुलभूषण जाधव को फांसी दी गई तो गंभीर परिणाम होंगे

यह उनकी जिम्मेदारी है। भारत को कुलभूषण जाधव की रिहाई के लिए पाक पर दबाव डालना चाहिए।'' उन्होंने कहा, ‘‘हमारा अनुरोध है कि उन्हें जितनी जल्दी हो सके रिहा किया जाये। भारत सरकार ने जवान चंदू चव्हाण की रिहाई सुनिश्चित करने के लिए जितना प्रयास किया था उससे दोगुना दबाव और प्रयास जाधव की रिहाई के लिए किया जाना चाहिए।''

First Published: 2017-04-11 18:50:30.0

Share it
Share it
Share it
Top