Top

अधिवक्ता ने की गंगा सफाई में हुए खर्च की सीबीआई जांच की मांग 

अधिवक्ता ने की गंगा सफाई में हुए खर्च की सीबीआई जांच की मांग गंगा। फाइल फोटो

नई दिल्ली (भाषा)। जाने माने पर्यावरणविद एवं अधिवक्ता एमसी मेहता ने हरिद्वार और उत्तरप्रदेश के उन्नाव के बीच किए गए गंगा की सफाई में हुए खर्च की सीबीआई जांच की मांग की है। इस 500 किलोमीटर की सफाई में केंद्र और राज्य सरकार की ओर से सात हजार करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। अधिवक्ता की ही याचिका पर राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने आज एक विस्तृत फैसला दिया और टिप्पणी की कि विभिन्न प्राधिकरण गंगा की सफाई में सात हजार करोड़ रुपये खर्च कर चुके हैं, हालांकि नदी की दशा में कोई खास सुधार नहीं हुआ है।

संबंधित खबर : गंगा की सफाई से जुड़ी 97 में से 32 परियोजनाएं पूरी: सरकार

एनजीटी ने अपने आदेश में कहा, '' देश में लाखों लोग गंगा नदी को पूजते हैं और यह हमारी संस्कृति का हिस्सा है। गंगा सफाई में 7304 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं। वहीं, मेहता ने कहा, ''गंगा सफाई में खर्च की गई राशि व्यर्थ चली गई है। मेरा मानना है कि केंद्र सरकार को इसकी जांच करानी चाहिए। यकीनन 7000 करोड़ से ज्यादा रुपए खर्च किए जा चुके हैं, क्योंकि प्रत्येक प्राधिकरण ने नदी की सफाई में पैसे खर्च किए हैं। पैसे कैसे खर्च हुए इस बात की सीबीआई जांच अथवा कैग से ऑडिट कराया जाना चाहिए, क्योंकि यह जनता का धन है जो व्यर्थ चला गया।''

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.