बलिया में बाइक और साइकिल टक्कर के बाद दो गुटों में विवाद, धारा 144 लागू

बलिया में बाइक और साइकिल टक्कर के बाद दो गुटों में विवाद, धारा 144 लागूबलिया में तनाव, वाहनों में लगाई आग

नयी दिल्ली। पूर्वी उत्तर प्रदेश के बलिया ज़िले में साइकिल और बाइक के बीच हुर्इ टक्कर के बाद बवाल मचा गया है। गड़वार थाना क्षेत्र के रतसड़ रतसड बाजार में दो गुटों के बीच हुई झड़प के बाद हिंसा भड़क गई और वहां 144 धारा लागू कर दी गई है। इस दौरान उग्र भीड़ ने लूटपाट के साथ आगजनी की घटनाओं को भी अंजाम दिया। ख़बरों के मुताबिक, इस मामले में पुलिस ने 20 लोगों को गिरफ्तार किया है।

बताया जा रहा है कि जिस समय बलिया में दो गुटों के बीच इस मामूली सी घटना को लेकर हिंसक झड़प हो रही थी, उस समय सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ त्योहारों के दौरान हुर्इ हिंसा की समीक्षा के लिए बैठक कर रहे थे।

यह भी पढ़ें : देश के चर्चित आरुषि मर्डर मिस्ट्री पर आज आएगा इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला

खबरों के अनुसार, दो लोगों में साइकिल और बाइक की टक्कर के बाद बवाल शुरू हुआ और एक पक्ष की तरफ से धरना-प्रदर्शन के बाद तोड़फोड़ और आगजनी की गयी। दर्जनों दुकानों में लूटपाट, तोड़फोड़ करने के साथ ही चार दुकानों में आग लगा दी गई। दोनों पक्षों की ओर से जमकर ईंट-पत्थर भी चले। खबर यह भी है कि इस घटना के बाद जिले के पुलिस अधीक्षक ने चौकी इंचार्ज सुरेंद्र सिंह को सस्पेंड कर दिया है।

बताया जा रहा है कि मंगलवार की रात रतसर पूर्वी बस्ती निवासी लक्ष्मण राजभर का बेटा अरविंद राजभर (25) बाजार से अपने घर साइकिल से जा रहा था। इसी बीच, रास्ते में अंधेरा होने के कारण उसकी साइकिल की टक्कर रानू अहमद (22) की बाइक से हो गयी। इस बात को लेकर दोनों में मारपीट हो गयीद्ध मारपीट के दौरान दोनों के सिर में गंभीर चोटें आयीं। लोगों के बीच बचाव के बाद दोनों का इलाज प्राथमिक केंद्र रतसर पर कराया गया।

यह भी पढ़ें : कोलकाता: माकपा सांसद पर बलात्कार का केस दर्ज

इस घटना के बाद बुधवार की दोपहर बाद करीब 1.30 बजे घायल अरविंद को लेकर सैकड़ों की संख्या में लोग रतसड़ के गांधी आश्रम चौराहे पर जुट गये। इसके बाद पुलिस व प्रशासन विरोधी नारेबाजी करने लगे। लोगों ने दुकानों में लूट पाट शुरू कर दी। इससे बाजार में भगदड़ मच गयी और दुकानों के शटर गिरने लगे। इस घटना के बाद से इलाके में तनाव बना हुआ है।

Share it
Top