कपास के नकली बीज मामले में कार्रवाई रिपोर्ट आने के बाद : शोभन के पटनायक 

कपास के नकली बीज  मामले में कार्रवाई रिपोर्ट आने के बाद : शोभन के पटनायक फाइल फोटो 

नई दिल्ली (भाषा)। कृषि सचिव शोभन के पटनायक ने आज कहा कि कपास के नकली बीजों की बिक्री मामले की जांच भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) कर रही है और उसकी रिपोर्ट आने के बाद जरुरी कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें-यहां के किसान कागज से उगा रहे पौधे

नकली बीजों की बिक्री की खबरों पर चिंता जताते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद को रिपोर्ट तैयार करने और कपास के नकली बीज बाजार में पहुंचने की गंभीरता की जांच करने को कहा गया है।

शोभन के पटनायक

कृषि सचिव ने भाषा को बताया, यह चिंता का विषय है। हम उम्मीद कर रहे हैं कि आईसीएआर जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंप देगी। इसके बाद स्थिति का जायजा लेकर भारत सरकार उचित कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि देश के अलग-अलग हिस्सों से कपास के नकली बीज की बिक्री की खबरें सामने आने के बाद सरकार ने मामले पर गंभीर रुख अपनाया है।

ये भी पढ़ें-जीरा उगाना किसानों के लिए बनेगा हीरा

पिछले हफ्ते, महाराष्ट्र सरकार के विशेष कार्य दल ने केंद्र सरकार से इस मामले में सीबीआई जांच का आग्रह किया था। जून में, हैदराबाद पुलिस ने चार लोगों को नकली कपास-बीज बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पंजाब सरकार ने कृषि विभाग के अधिकारियों को किसानों के हित में कपास के नकली बीज पर नकेल कसने के लिए कहा था। देश में गुजरात, महाराष्ट्र, तेलंगाना, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान और पंजाब बडे कपास उत्पादक राज्य है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top