जय की कंपनी में भ्रष्टाचार का सवाल ही नहीं है : अमित शाह  

जय की कंपनी में भ्रष्टाचार का सवाल ही नहीं है : अमित शाह  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ।

अहमदाबाद (भाषा)। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि उनके बेटे जय अमित शाह की कंपनी में भ्रष्टाचार का कोई सवाल ही नहीं है और एक रुपये की भी सरकारी जमीन या ठेका हासिल नहीं हुआ है।

वह न्यूज पोर्टल द वायर की उस खबर का जिक्र कर रहे थे जिसमें दावा किया गया है कि वर्ष 2014 में भाजपा के सत्ता में आने के बाद जय की कंपनी के टर्नओवर में बेतहाशा वृद्धि हुई। भाजपा प्रमुख ने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुये कहा कि कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे लेकिन उन्होंने कभी कोई आपराधिक मानहानि का मामला दायर नहीं किया जबकि उनका पुत्र अपने खिलाफ लगे आरोपों के खिलाफ अदालत गया। शाह ने रिपोर्ट को लेकर पूछे गये एक सवाल के जवाब में कहा, जय की कंपनी में भ्रष्टाचार का सवाल ही नहीं उठता।

यहां आजतक द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शाह ने कहा, “मैं यहां कुछ सवाल उठाना चाहता हूं। कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे। क्या उन्होंने कभी भी आपराधिक मानहानि या 100 करोड़ की दीवानी मानहानि का मामला दायर किया। वह ऐसे मुकदमे दायर करने की हिम्मत क्यों नहीं जुटा पाये?”

ये भी पढ़ें:सरकारी जमीन नहीं ली है और न ही बोफोर्स की तरह दलाली खाई है - अमित शाह

उन्होंने कहा कि जय ने मानहानि का मुकदमा दायर किया। उन्होंने (अदालत का रुख कर) जांच की मांग की है, भाजपा ने भी जांच की मांग की है। उन्होंने कहा, “जहां तक कंपनी की बात है, उसने सरकार के साथ एक रुपये का भी कारोबार नहीं किया। उसे सरकार से एक रुपये कीमत की भी जमीन नहीं मिली है, उसे सरकार से एक रुपये का भी ठेका नहीं मिला है।” शाह ने बोफोर्स तोप दलाली मामले का संदर्भ देते हुये कहा, “कंपनी ने दलाली नहीं ली जैसा कि बोफोर्स के मामले में था।”

उन्होंने कहा कि कंपनी चावल और जौ जैसी चीजों का कारोबार करती है। शाह ने पूछा, “वे कह रहे हैं कि कंपनी का टर्नओवर 80 करोड़ रुपये था लेकिन वे यह नहीं दिखा रहे कि उसे 1.5 करोड का नुकसान हुआ। यह बड़े पैमाने पर होने वाला कारोबार है जिसमें लाभ कम मिलता है। इसमें कहां धन शोधन हुआ है? कंपनी को दिये गये कर्ज को लेकर पूछे गये एक सवाल के जवाब में शाह ने कहा, “आपको पहले यह समझना होगा कि यह कर्ज नहीं है बल्कि यह साख पत्र है। हमें नकद जमा के बदले सामग्री उठाने के लिये साख दी गयी। जय की नकदी बैंक में पड़ी थी और हमने ब्याज सहित कर्ज चुकाया।”

कांग्रेस ने इस मामले में न्यायिक जांच और अमित शाह को भाजपा अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की है। भाजपा ने पार्टी अध्यक्ष के बेटे के खिलाफ लगे इन आरोपों को खारिज करते हुये खबर को झूठी, अपमानजनक और मानहानिकारक बताया था। जय शाह ने नौ अक्तूबर को अहमदाबाद की मेट्रोपोलिटन अदालत में द वायर के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया है।

ये भी पढ़ें-गुजरात में योगी का वार, बोले- जहां राहुल जाते हैं कांग्रेस हार जाती है

ये भी पढ़ेंअमित शाह के बेटे जय शाह ने किया वेबसाइट ‘द वायर’ पर 100 करोड़ रुपए की मानहानि का मुकदमा

ये भी पढ़ेंअमित शाह पहुंचे राज्यसभा, स्मृति ईरानी ने भी ली संस्कृत में शपथ

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top