हाय रे महंगाई: टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात बंदूकधारी गार्ड

हाय रे महंगाई: टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात बंदूकधारी गार्डटमाटर की सुरक्षा करते बंदूकधारी गार्ड

नई दिल्ली। आसमान छूते भाव ने टमाटर को गहनों से भी ज्यादा कीमती बना दिया है। आलम ये है कि इंदौर की देवी अहिल्या बाई होलकर सब्जी-फल मंडी में टमाटर सुरक्षा कर्मियों के साए बिक रहा है। यह मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी सब्ज़ी मंडी है।

बाजार में टमाटर करीब 100 रुपए किलो बिक रहा है। देश में कई जगहों पर टमाटर चोरी की घटनाएं सामने आ रही हैं। दो दिन पहले ही में मुंबई के दहिसर सब्जी मंडी से 300 किलो टमाटर के चोरी होने की भी खबर आई थी। इंदौर के व्यापारियों ने चोरी के ही डर से सुरक्षाकर्मी लगाने का फैसला लिया है।

इंदौर के मंडी इंस्पेक्टर रमेश सावादिया ने बताया, "टमाटर के दाम 10 गुना बढ़ गए हैं, जबकि आवक पहले से 10 प्रतिशत ही रह गई है। ऐसे में कुछ किसानों ने मुंबई की घटना का हवाला देते हुए हमसे सुरक्षा व्यवस्था की मांग की थी तो हमने उन्हें गार्ड उपलब्ध करवा दिए हैं।"

ये भी पढ़ें:- कर्ज़माफी : किसानों की डाटा फीडिंग की तारीख खत्म, कई मंडलों में 40 फीसदी भी काम पूरा नहीं

मंडी में तीन से चार बंदूकधारी जवान कर रहे टमाटर की गाड़ी की सुरक्षा

मंडी में आने से फुटकर ग्राहकों के बैग में जाने के बीच टमाटर को लगातार वीआईपी स्टेटस दिया गया। गाड़ियों के मंडी में आने से लेकर माल बिकने तक हर गाड़ी के आसपास तीन से चार गार्ड्स अपनी बंदूक लेकर तैनात रहे। मंडी समिति के मुताबिक़ वैसे इंदौर में कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है, लेकिन यदि आगे भी किसानों या व्यापारियों ने सुरक्षा की मांग की तो हम उन्हें गार्ड उपलब्ध कराएंगे।

ये भी पढ़ें :- इंजीनियरिंग और एमबीए करने वाले युवाओं को एलोवेरा में दिख रहा कमाई का फ़्यूचर

चोरों ने उड़ाए 300 किलो टमटर

मुंबई के दहिसर पुलिस ने 25 हजार रुपये कीमत के 300 किलो टमाटर चोरी होने की शिकायत दर्ज की है, लेकिन शिकायतकर्ता टमाटर विक्रेता जगत श्रीवास्तव का आरोप है कि चोरों ने 30 कैरेटों में रखे हुए करीब 900 किलो टमाटर चुराए हैं, जिसका बाजार मूल्य 60 हजार रुपये से अधिक होता है। टमाटर विक्रेता जगत के पड़ोसी रामप्रकाश सिंह बताते हैं, 'जगत टमाटर का व्यवसाय करीब 12-13 सालों से करते आ रहे हैं। डोंगरी के रहने वाले जगत 300 रुपये दैनिक भाड़े पर दुकान चलाते हैं, लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब चोरों ने इतने बड़े पैमाने पर वारदात को अंजाम दिया है।

ये भी पढ़ें:- सस्ती तकनीक से किसान किस तरह कमाएं मुनाफा, सिखा रहे हैं ये दो इंजीनियर दोस्त

तीन महीने पहले सड़क पर फेंका गया टमाटर

तीन महीने पहले टमाटर को सड़क पर फेंक गए थे किसान

जिस टमाटर की सुरक्षा अभी बंदूकधारी जवान कर रहे हैं, तीन महीन पहले उसके हाल बेहाल थे। तीन महीने पहले थोक में टमाटर के दाम चार आने से लेकर एक रुपए किलो हो गए थे। तब टमाटर बेचने आए कई किसान अपना माल सड़क पर फेंककर चले गए थे, क्योंकि टमाटर बेचने से मिले रुपए गाड़ी के भाड़े से भी कम थे।

ये भी पढ़ें:- वीडियो : एलोवेरा की खेती का पूरा गणित समझिए, ज्यादा मुनाफे के लिए पत्तियां नहीं पल्प बेचें

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top