‘सेना को इंसानी जिंदगी की परवाह है, लेकिन कश्मीर में हालात के मुताबिक होगा एक्शन’

‘सेना को इंसानी जिंदगी की परवाह है, लेकिन कश्मीर में हालात के मुताबिक होगा एक्शन’सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत।

नई दिल्ली। जम्‍मू-कश्‍मीर में तनाव को कम करने के लिए सेना सभी जरूरी कदम उठा रही है। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को कहा कि हालात काबू में लाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि सेना लोगों की जान की परवाह करती है और यह सुनिश्चित करेंगे कि मानवाधिकारों का उल्‍लंघन न हो।

जनरल रावत ने कहा, ”दक्षिणी कश्‍मीर के कुछ हिस्‍से समस्‍याग्रस्‍त हैं। हालात काबू में लाने के लिए वहां पर जरूरी एक्‍शन लिया जा रहा है। हमें इंसानी जिंदगी की परवाह है और मानवाधिकारों का उल्‍लंघन न होना सुनिश्चित‍ किया जाएगा।” जब पत्रकारों ने घाटी में सेना के अफसरों में पत्‍थर फेंकने वाले बच्‍चों पर सवाल किया तो उन्‍होंने कहा कि सेना ऐसी परिस्थितियों का सामना करने के लिए प्रशिक्षित है। उन्‍होंने जोर देकर कहा, ”हम ऐसी परिस्थितियों से निपटने के लिए ट्रेन्‍ड हैं। हम मानव-अधिकारों में पूर्ण रूप से विश्‍वास रखते हैं।”

सेनाध्‍यक्ष ने कहा कि गलत जानकारियां घाटी के युवाओं को हथियार उठाने के लिए उकसा रही हैं। उन्‍होंने कहा, ”कुछ गलत जानकारिया जेएंडके के लोगों के बीच फैलाई जा रही हैं और शायद इसी वजह से युवा पीढ़ी हथियार उठा रही हो।”

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top