Top

आप सोच भी नहीं सकते कि पांच साल में इतने कम हो जाएंगे पेट्रोल के दाम

Shefali SrivastavaShefali Srivastava   25 May 2017 7:13 PM GMT

आप सोच भी नहीं सकते कि पांच साल में इतने कम हो जाएंगे पेट्रोल के दामअमेरिकन अर्थशास्त्री की भविष्यवाणी 

लखनऊ। अगर आप पेट्रोल-डीजल वाली गाड़ी चलाते हैं तो ये खबर आपके लिए हैं। एक भविष्यवाणी के अनुसार अगले पांच वर्षों में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 30 रुपए से भी कम हो जाएगी। इसकी वजह बनेगी तेजी से उभरती टेक्नोलॉजी जिससे दुनिया की पेट्रोल पर निर्भरता कम हो जाएगी और इस लिहाज से पेट्रोल के दाम भी गिरते जाएंगे।

इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार, ये भविष्यवाणी प्रसिद्ध अमेरिकन भविष्यवक्ता टोनी सेबा ने की है जो पहले सौर ऊर्जा में तेजी की भविष्यवाणी भी कर चुके हैं, जब इसकी कीमत आज की कीमतों से लगभग 10 गुनी ज्यादा थी।

सेबा एक सीरियल सिलकॉन वैली आन्त्रप्रिन्योर और स्टैनफोर्ड के अर्थशास्त्री हैं। सेबा की सौर ऊर्जा वाली भविष्यवाणी तो सटीक साबित हुई थी लेकिन पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियों के लिए भी भविष्यवाणी सही होगी या नहीं ये वक्त बताएगा। सेबा के अनुसार, ‘सेल्फ ड्राइव यानी बिजली से चलने वाली गाड़ियों की बढ़ोतरी से तेल की कीमत कम होगी और प्रति बैरल 25 डॉलर तक इसकी कीमत होने की संभावना होगी।’

ये भी पढ़ें: इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो नहीं मिलेगा पेट्रोल-डीजल

सीएनबीसी से बातचीत में सेबा ने कहा, ‘तेल की मांग 2020-2021 तक सबसे ज्यादा होगी और उसके बाद 10 वर्षों में यह डिमांड 100 मिलियन बैरल से 70 मिलियन बैरल तक गिर जाएगी और इस तरह तेल का सामान्य मूल्य 25 डॉलर तक हो जाएगी। सेबा कहते हैं कि लोग अपनी पुरानी कारों के इस्तेमाल को नहीं रोकेंगे बल्कि सेल्फ ड्राइव इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियां अर्थव्यवस्था का एक बड़ा भाग बन जाएंगी। ये इलेक्ट्रॉनिक वाहन चलाने के साथ-साथ खरीदने में भी सस्ते होंगे।

ये भी पढ़ें: पेट्रोल, डीजल की होगी ‘होम डिलीवरी’, मंत्रालय कर रहा विचार

सेबा ने इससे पहले कहा था कि 2030 तक 95 फीसदी लोग अपने लिए प्राइवेट कारें नहीं खरीदेंगे जिससे ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री का पूरी तरह सफाया हो जाएगा। उन्होंने यह भी भविष्यवाणी की थी कि इलेक्ट्रिक वाहन ग्लोबल ऑयल इंडस्ट्री को भी नुकसान पहुंचाएंगे। हाल ही में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि भारत 2030 तक पूरी तरह इलेक्ट्रॉनिक कारों की ओर देख रहा है। उनके अनुसार 15 साल बाद भारत में एक भी पेट्रोल या डीजल वाली कारें नहीं बिकेंगी।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.