दिल्ली में सीवर सफाई पर पूरी तरह बैन, लगातार हो रही घटनाओं के बाद लिया फैसला

दिल्ली में सीवर सफाई पर पूरी तरह बैन, लगातार हो रही घटनाओं के बाद लिया फैसलाप्रतीकात्मक फोटो 

दिल्ली। दिल्ली सरकार ने राज्य में सीवर के अंदर उतरकर सफाई करने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है और कहा है कि इसका उल्लंघन होने पर गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा। इसके अलावा, सीवर की सफाई के तरीके खोजने के लिए एक कमिटी का गठन किया गया है जो 15 दिनों में अपनी रिपोर्ट देगी।

इस बारे में दिल्ली में सामाजिक कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने सोमवार को सीवरेज सफाई पर बैन की घोषणा की। साथ ही चेतावनी भी दी कि अगर कोई ने नियम तोड़ते हुए पाया गया तो उस पर गैर इरादतन हत्या के अंदर कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- सफाई कर्मचारी दिवस : सीवेज सफाई में हर वर्ष हजारों मजदूरों की हो जाती है मौत

यह फैसला ले. गर्वनर अनिल बैजल की सोमवार को सीवेज सफाई के दौरान हो रही मौतों पर हाई लेवल मीटिंग के बाद आया। इस मीटिंग में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पीडब्ल्यूडी मंत्री सत्येंदर जैन और गौतम के साथ विभाग से संबंधित अधिकारी शामिल हुए।

मीटिंग के बाद गौतम ने मीडिया से कहा, मैनुअल सीवेज सफाई के खिलाफ पहले भी होर्डिंग्स लगाकर चेतावनी दी गई है लेकिन लोगों द्वारा उसे सही तरीके से अपनाया नहीं जा रहा था और दुर्घटनाओं की खबरें भी आ रही थीं।

ये भी पढ़ें- नालों की सफाई न होने से ग्रामीण परेशान, गंदगी से लोग पड़ रहे बीमार

रविवार को सीवर टैंक में लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी जबकि तीन अन्य घायल हो गए। बताते चलें कि एक महीने में दिल्ली में इस तरह की 10 मौतों के मामले आए हैं।

इससे पहले 12 अगस्त को पूर्वी दिल्ली के शाहदरा इलाके में स्थित एक मॉल के सेप्टिक टैंक की सफाई करते हुए दो भाइयों की मौत हो गई थी। 6 अगस्त को दक्षिणी दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में सीवर सफाई के दौरान तीन लोगों की मौत हो गई थी।

Share it
Top