बिना कर्ज दिए ही किसानों से 40-50 लाख रुपए वसूलना चाहती है बैंक, नोटिस के बाद किसान परेशान

बिना कर्ज दिए ही किसानों से 40-50 लाख रुपए वसूलना चाहती है बैंक, नोटिस के बाद किसान परेशान

नागपुर (भाषा)। महाराष्ट्र में कुछ किसानों को करीब 40 से 50 लाख रुपए की ऋण वसूली के लिए बैंक से नोटिस जारी किया गया है, लेकिन इस बारे में इन किसानों का दावा है कि उन्होंने बैंक से कोई कर्ज लिया ही नहीं है।

इस घटनाक्रम के कारण पुलिस को एक जांच शुरू करनी पड़ी है। अधिकारी ने सोमवार को बताया कि नागपुर जिले के नारखेड तहसील के सन्जिर गांव के किसानों से मिली शिकायतों के बारे में नागपुर ग्रामीण पुलिस की अपराध शाखा ने जांच शुरू की है। पुलिस के मुताबिक, 11 किसानों ने जलालखेड़ा पुलिस स्टेशन में शिकायत दायर की है जिसमें उनका कहना है कि उनमें से हरेक को सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक से 40 लाख से 50 लाख रुपए ऋण नहीं चुकाए (डिफ़ॉल्ट करने) जाने को लेकर नोटिस मिला है। हालांकि, किसानों ने दावा किया कि उन्होंने बैंक से कोई ऋण नहीं लिया है।

ये भी पढ़ें-एमएसपी और किसानों की आमदनी बढ़ाने के शोर के बीच पढ़िए, स्वामीनाथन ने मोदी सरकार की कृषि नीतियों पर क्या कहा

इन किसानों में से एक, प्रकाश गायकवाड़ ने फोन पर समाचार एजेंसी को बताया "करीब 10 दिन पहले, उनके परिवार को बैंक से नोटिस मिला कि लगभग 50 लाख रुपए के ऋण के एवज में मासिक किस्त का भुगतान नहीं किया गया है। इंस्पेक्टर जी आर टम्टे ने 11 किसानों से शिकायतें प्राप्त होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा, "इस मुद्दे की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए, विभाग ने स्थानीय अपराध शाखा से मामले की जांच करने को कहा है।

Share it
Top