महाराष्ट्र में दलित महिला की पिटाई, निर्वस्त्र कर घुमाया

महाराष्ट्र में दलित महिला की पिटाई, निर्वस्त्र कर घुमायाप्रतीकात्मक फ़ोटो (साभार -नेट )

मुंबई (भाषा) । महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में बैलों का एक जोडा चुराने की कथित कोशिश को लेकर 50 वर्षीय दलित महिला की पिटाई और लोगों के सामने निर्वस्त्र करने का मामला सामने आया है।

इस घटना के सिलसिले में भादंसं की विभिन्न धाराओं और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम के तहत 23 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है।

ये भी पढ़ें- क्या किसान आक्रोश की गूंज 2019 लोकसभा चुनाव में सुनाई देगी ?

पुलिस ने बताया कि जिले के ढाड थानांतर्गत रईखेड मयांबा गांव में दो जून की शाम को यह घटना हुई। गांव के रहने वाले सखाराम उगाले ने महिला और उसके बेटे पर उसकी गौशाला में चुपके से घुसने और बैलों का एक जोडा चुराने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उसने वहां कुछ और लोगों को बुलाया और करीब 30 लोगों की भीड ने महिला और उसके बेटे की कथित तौर पर डंडों से पिटाई की।

फ़ोटो साभार -(नेट)

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ये भी पढ़ें- सरहानपुर में अपना विरोध दर्ज करने के लिए दलित अपना रहे बौद्ध धर्म

पुलिस ने बताया कि उन्होंने महिला को निर्वस्त्र भी कर दिया। मामले की जांच कर रहे एसडीपीओ बी बी महामुनि ने बताया कि यह घटना महिला को अस्पताल ले जाने के बाद प्रकाश में आई। पीडित की शिकायत और अस्पताल से प्राप्त मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर धाड थाने में मामला दर्ज किया गया।

पुलिस ने इस मामले में अब तक 23 लोगों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने महिला के खिलाफ चोरी की कोशिश का मामला भी दर्ज किया है। इस संबंध में जांच जारी है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top