गौरी लंकेश के हत्यारों को न्याय के दायरे में लाया जाएगा : सिद्धरमैया 

गौरी लंकेश के हत्यारों को न्याय के दायरे में लाया जाएगा : सिद्धरमैया कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया

बेलगावी (कर्नाटक) (भाषा)। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को मानवता पर एक हमला करार दिया और कहा कि उनकी सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि दोषियों को न्याय के दायरे में लाया जाए। सिद्धरमैया ने कहा कि सरकार हत्या के पीछे मौजूद लोगों का पता लगाने और उन्हें न्याय के दायरे में लाने की अपनी कोशिशों में ईमानदार है।

उन्होंने यहां विधानसभा के शीतकालीन सत्र के प्रथम दिन सदन से यह कहा। हालांकि, सदन में आज उपस्थिति कम रही। गौरतलब है कि दक्षिणपंथी विचारों के खिलाफ मुखर रही गौरी की पांच सितंबर की रात बेंगलुरु में अज्ञात हमलावरों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी।

ये भी पढ़ें - विकास के नाम पर नफरत फैला रही है भाजपा सरकार : अखिलेश

सिद्धरमैया ने कहा, ''यह एक निर्मम हत्या है, यह मानवता पर एक हमला है। उन्होंने सदन में गौरी को श्रद्धांजलि देने के दौरान यह कहा। मुख्यमंत्री ने कहा, ''हम अब तक उन लोगों को पकड़ नहीं पाए। उन्हें पकड़ने के लिए एक एसआईटी गठित की गई है।'' तर्कवादी एमएम कलबुर्गी के हत्यारों के अब तक नहीं पकड़े जाने का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ''सरकार और जांच एजेंसी दोषियों को पकडने की अपनी कोशिश में ईमानदार हैं।'' जद (एस) नेता वाईएसवी दत्ता ने कहा कि गौरी की हत्या अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर असिहष्णुता की गोलीबारी है।

ये भी पढ़ें - ‘मोदी सरकार के प्रदर्शन का आकलन कार्यकाल खत्म होने के बाद किया जाए’

विपक्षी नेता जगदीश शेट्टार ने मांग की कि दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए। उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि राज्य के गृह मंत्री ने पहले कहा था कि जांच टीम को हत्यारों के बारे में सुराग मिले हैं। भाजपा नेता ने कहा, ''इसका खुलासा करिए और चीजें स्पष्ट करिए। किसी पर भी अनावश्यक ढंग से आरोप लगाने की कोशिश नहीं की जाए। गौरतलब है कि राज्य के गृह मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने शनिवार को कहा था कि गौरी के हत्यारों को कुछ हफ्तों में अवश्य ही पकड़ लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें - लालू ने दिया संकेत बिहार के अगले चुनाव में तेजस्वी हो सकते हैं राजद का चेहरा

वहीं, राज्य सरकार ने वारदात को अंजाम देने वाले के बारे में सुराग देने वाले को 10 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की है। गौरी के अलावा सदन ने पूर्व मुख्यमंत्री धरम सिंह और इसरो के पूर्व प्रमुख यूआर राव को भी श्रद्धांजलि अर्पित की, जिनका कुछ महीने पहले निधन हो गया था। इसके बाद सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई।

ये भी पढ़ें - राहुल गांधी एक त्रासदी निर्माता, कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश हुआ : अमित शाह

Share it
Top