इफको इमका अवॉर्ड : गाँव कनेक्शन में प्रकाशित “ नर्मदा के साथ-साथ ” सीरीज को मिला सर्वश्रेष्ठ स्थान

इफको इमका अवॉर्ड : गाँव कनेक्शन में प्रकाशित “ नर्मदा के साथ-साथ ” सीरीज को मिला सर्वश्रेष्ठ स्थानगांव कनेक्शन के स्वतंत्र लेखक अमित को मिला सम्मान। 

नई दिल्ली। भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) के पूर्व छात्रों का छठा सम्मेलन रविवार को आयोजित किया गया, जिसमें इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन अल्यूमनाई एसोसिएशन ‘इफको इम्का अवॉर्ड्स 2018’ की घोषणा हुई। देश में पत्रकारिता क्षेत्र के अग्रणी संस्थान के दिल्ली स्थित मुख्यालय में होने वाले इस कार्यक्रम में रिपोर्टिंग, प्रोडक्शन और विज्ञापन एवं जन संपर्क के क्षेत्र में कुल 23 श्रेणियों में पुरस्कार दिये गए।

एलुम्नाई ऑफ द ईयर का सम्मान आज तक के मैनेजिंग एडिटर सुप्रिय प्रसाद को मिला।

ये भी पढ़ें- नर्मदा के साथ-साथ : पहला दिन, कहानी जलुद की, जहाँ सौ-फीसदी पुनर्वास हो गया है

इन 23 श्रेणियों में गाँव कनेक्शन के लिए की गई विशेष श्रृंखला "नर्मदा के साथ-साथ" के लिए अमित को फीचर श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ चुना गया। पांच फीचर लेखों की इस श्रृंखला में गाँव कनेक्शन ने गुजरात में स्थित सरदार सरोवर बांध में पानी की ऊंचाई बढ़ने से प्रभावित नर्मदा के किनारे बसे गाँव-ग्रामीणों की कहानी उठाई गई थी। इस श्रृंखला के लिए पांच दिनों में नर्मदा के किनारे के क़रीब 400 किलोमीटर में बसे 15-16 गाँव की यात्रा की गई।

ये भी पढ़ें- नर्मदा के साथ-साथ : दूसरा दिन धरमपुरी, एक मात्र डूब प्रभावित क़स्बा

यह यात्रा मध्य प्रदेश के जलूद गाँव से शुरू होकर गुजरात सरदार सरोवर बांध जाकर समाप्त हुई थी।23 श्रेणियों में यह पुरस्कार दो विशेष श्रेणियों में भी दिया गया। इसमें समाज सेवा में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिल्ली विधानसभा में सदस्य पंकज पुस्कार के अलावा एलुमनाई ऑफ द ईयर आजतक के सुप्रिया प्रसाद को दिया गया।

ये भी पढ़ें- नर्मदा के साथ-साथ भाग-3 : सांयकालीन, “हरसूद था, निसरपुर हो रहा है ‘था’

अलग अलग क्षेत्रों के पत्रकारों को मिला सम्मान।

इम्का के इस आयोजन में देश में मीडिया जगत की कई जानी-मानी हस्तियों सहित सैकड़ों की संख्या में संस्थान के पूर्व छात्रों ने भागीदारी की। इसमें सबसे प्रमुख उज़्बेकिस्तान के भारत में राजदूत और आईआईएमसी के पूर्व छात्र फ़रहद अर्ज़ीव सहित ज़ी न्यूज़ के सुधीर चौधरी, मैग्सेसे पुरस्कार विजेता अंशु गुप्ता, एनडीटीवी के उमाशंकर सिंह और आजतक के मंजीत ठाकुर जैसे प्रमुख लोग शामिल हुए।

ये भी पढ़ें- नर्मदा के साथ-साथ भाग- 4 : घर छोड़ना, गाँव छोड़ना, अपना ही घर तोड़ना फिर ईंटों को ढोना

द वायर की श्रुति जैन को सम्मानित करते वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह

इफको ईमका अवार्ड्स 2018 के विजेताओं की सूची

1. एलुम्नाई ऑफ द ईयर- सुप्रिय प्रसाद, आज तक

2. पब्लिक सर्विस- पंकज पुष्कर, सदस्य, दिल्ली विधानसभा

3. एग्रीकल्चर रिपोर्टिंग- उत्कर्ष सिंह, एबीपी न्यूज

4. इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग- आदिल रजा खान, द वायर

5. डेवलपमेंटल रिपोर्टिंग- टीआर विवेक, न्यूजलॉण्ड्री

6. पॉलिटिकल रिपोर्टिग- श्रुति जैन, दी वायर

7. स्पोर्ट्स रिपोर्टिंग- एंड्रयू ऐमसन, द इंडियन एक्सप्रेस

8. इकोनॉमिक एंड बिजनेस रिपोर्टिंग- अतहर इमाम खान, बीबीसी हिंदी

9. फीचर- अमित, गांव कनेक्शन (जिस स्टोरी पर अवार्ड मिला वो यहां पढ़ें )

10. प्रिंट प्रोडक्शन- लार्ज मीडिया- प्रिय रंजन झा, नवभारत टाइम्स

11. ब्रॉडकास्ट प्रोडक्शन- लार्ज मीडिया- अंकुर त्यागी, जी बिजनेस

12. डिजिटल प्रोडक्शन, ऑरिजिनल स्टोरीटेलिंग- गौरा नैथानी, स्कूपव्हूप

13. डिजिटल प्रोडक्शन, इनोवेशन- विष्णु कुमार सोनी, न्यूज 18 इंडिया

14. ब्रॉडकास्टर- उमाशंकर सिंह, एनडीटीवी इंडिया

15. डॉक्यूमेंट्री फिल्म मेकिंग- प्रज्ञा श्रीवास्तव, चलत मुसाफिर

16. एडवर्टाइजिंग- विपिन ध्यानी, थॉटशॉप एडवर्टाइजिंग

17. इमेज बिल्डिंग- चैतन्य कृष्णराजू, क्रैंकर स्टूडियोज

18. मीडिया इनोवेशन- सुमांत्रा तालुकदार, डेंशू वेबचटनी

19. एडवोकेसी- सुकन्या जेना, ओडिशा लाइवलीहूड्स मिशन

20. सोशल मीडिया मैनेजमेंट- सान्या ग्रोवर, एडलमैन डिजिटल

21. डेवलपमेंटल रिपोर्टिंग- जूरी मेंशन- अभिनव गोयल, एबीपी न्यूज

22. ब्रॉडकॉस्ट प्रोडक्शन- जूरी मेंशन- नीरज झा, पिक्सपो मीडिया

23. सेंट्रल कमेटी स्पेशल मेंशन- सूरज कुमार, जॉनसंस सूरज फिल्म इंटरनेशनल

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

नर्मदा पर विशेष सीरीज जिसे फीचर सेक्शन में मिला पुरस्कार।

Share it
Top