हिंसाग्रस्त मंदसौर, नीमच व रतलाम के जिलाधिकारियों का तबादला : मुख्य सचिव 

हिंसाग्रस्त मंदसौर, नीमच व रतलाम के जिलाधिकारियों का तबादला : मुख्य सचिव शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश।

भोपाल (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में किसानों के आंदोलन के हिंसक रूप लेने और मंदसौर में हुई गोलीबारी में पांच किसानों के मारे जाने के बाद हिंसाग्रस्त मंदसौर, नीमच व रतलाम के जिलाधिकारियों का तबादला किया गया है। वहीं मंदसौर पुलिस अधीक्षक का भी तबादला हुआ है। मंदसौर के अफसरों के तबादले के पीछे मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने स्थानीय असंतोष को दूर करना बताया है।

मुख्य सचिव सिंह ने गुरुवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि, किसी भी घटना के बाद स्थानीय लोगों में प्रशासन के प्रति असंतोष होता है, इसी के मद्देजनर जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक ओ पी त्रिपाठी का तबादला किया गया है। शिवपुरी के जिलाधिकारी को मंदसौर भेजा है, इसलिए वहां दूसरे अधिकारी को भेजा गया है। इसके अलावा रतलाम व नीमच के अफसर प्रशिक्षण पर हैं, इसलिए दूसरे अधिकारी भेजे गए हैं।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, नीमच के पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह को मंदसौर और पुलिस अधीक्षक (रेल) भोपाल टी. के. विद्यार्थी को नीमच का पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। वहीं मंदसौर पुलिस अधीक्षक ओ. पी. त्रिपाठी को पुलिस मुख्यालय भेजा गया है।

प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गुरुवार की सुबह एक आदेश जारी कर मंदसौर के जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह का तबादला कर उनके स्थान पर शिवपुरी के जिलाधिकारी ओ पी श्रीवास्तव को पदस्थ किया गया है। वहीं बी चंद्रशेखर के स्थान पर तन्वी सुन्द्रियाल को रतलाम व रजनीश श्रीवास्तव के स्थान पर कौशलेंद्र विक्रम सिंह को नीमच का जिलाधिकारी बनाया गया है। इसके अलावा तरुण राठी को शिवपुरी का जिलाधिकारी बनाया गया है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ज्ञात हो कि राज्य में किसान कर्ज माफी और फसल के उचित दाम की मांग को लेकर एक जून से हड़ताल पर है। गुरुवार को हड़ताल का आठवां दिन है। मालवा-निमाड़ अंचल में किसानों का आंदोलन बीते दो दिनों से हिंसक बना हुआ है। मंगलवार को मंदसौर में पुलिस बल की गोलीबारी में पांच किसानों की मौत के बाद बुधवार को कई स्थानों पर हिंसा हुई और वाहनों को फूंका गया।

Share it
Top