MP Board 2017 : मध्य प्रदेश हायर सेकेंडरी की मेधा सूची में लड़कियां और छोटे शहरों के बच्चे छाए

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   12 May 2017 1:48 PM GMT

MP Board 2017 : मध्य प्रदेश हायर सेकेंडरी की मेधा सूची में लड़कियां और छोटे शहरों के बच्चे छाएमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

भोपाल (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से आयोजित 10वीं व 12वीं के नतीजे शुक्रवार को घोषित किए गए। हायर सेकेंडरी की जो मेधा सूची जारी की गई है, इसमें सीधी की अनुष्का जौहरी अव्वल रहीं। इस सूची में कुल 10 छात्रों के नाम हैं, जो सभी छोटे शहरों छतरपुर, सिंगरौली, दमोह, राजगढ़, शहडोल आदि स्थानों से हैं। इस सिलसिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आवास पर एक समारोह भी आयोजित हुआ।

विज्ञान (गणित) की मेधा सूची में टीकमगढ़ से संयम जैन ने बाजी मारी है। इसमें कुल 51 छात्र हैं, क्योंकि 10 की मेधा सूची में कई स्थान पर एक से ज्यादा छात्रों के समान नंबर आए हैं। 51 छात्रों में 41 छोटे शहरों से हैं।

मंडल की मेधा सूची के वाणिज्य संकाय में इंदौर की वंशिका आंगीवाल ने सबसे ज्यादा अंक प्राप्त किए हैं। वहीं छह छोटे शहरों और 17 बड़े शहरों के बच्चों ने इस सूची में स्थान पाया है।

कृषि समूह की मेधा सूची में टीकमगढ़ के नितिन खरे टॉपर रहे, वहीं 11 की मेधा सूची में सभी छात्र छोटे शहरों के हैं।

ललित कला और गृह विज्ञान में सीधी जिले की शांति गुप्ता अव्वल रहीं। इस सूची में तीनों स्थानों पर छोटे शहरों के छात्रों के नाम हैं।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

विज्ञान (जीव) समूह में होशंगाबाद की राखी साहू ने बाजी मारी। इस मेधी सूची में कुल 20 नाम हैं, जिसमें 10 छात्र छोटे शहरों से हैं।

राज्य में यह पहला मौका है, जब हाई स्कूल व हायर सेकेंडरी के नतीजे एक साथ घोषित किए गए हैं।

इस समारोह में राज्य के शिक्षा मंत्री विजय शाह, राज्य मंत्री दीपक जोशी, मंडल के चेयरमैन एस. आर. मोहंती आदि उपस्थित हुए।

इस बार भी बालिकाओं ने बालकों के मुकाबले बाजी मारी है, छोटे शहरों के छात्र बड़ी संख्या में मेधा सूची में आए हैं। सरकारी विद्यालयों के नतीजे निजी विद्यालयों से बेहतर रहे।
शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश

इस वर्ष 10वीं व 12वीं की परीक्षा में कुल 18 लाख 68 हजार विद्यार्थी शामिल हुए। 10वीं की बोर्ड परीक्षा में सात लाख 12 हजार और 12वीं की परीक्षा में 11 लाख 56 हजार विद्यार्थी शामिल हुए थे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top