नहीं रहे डीएनए फिंगर प्रिंट के जनक, दिल का दौरा पड़ने से निधन

नहीं रहे डीएनए फिंगर प्रिंट के जनक, दिल का दौरा पड़ने से निधन्टर लाल जी स

बीएचयू के पूर्व कुलपति और भारत के डीएनए वैज्ञानिक डॉ. लालजी सिंह का 70 साल की उम्र में रविवार शाम को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह हैदराबाद के सेलुलर और आणविक जीव विज्ञान के पूर्व निदेशक भी रह चुके हैं।डॉक्टर लाल जी सिंह मूलतः जौनपुर के सिकरारा थाना अंतर्गत कलवारी गांव के निवासी थे, इनका जन्म 1947 में हुआ था।

ये भी पढ़ें- नोटबंदी और जीएसटी का असर गुजरात चुनाव के नतीजों में दिखेगा: अखिलेश

विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डा. राजेश सिंह बताया कि पूर्व कुलपति एवं जौनपुर के ब्लॉक सिकरारा कलवारी गांव निवासी डा. लालजी सिंह तीन दिन पहले अपने गांव आए थे। वह रविवार की शाम हैदराबाद जाने के लिए फ्लाइट पकड़ने बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे। उनकी फ्लाइट शाम साढ़े पांच बजे थी। इससे पहले ही करीब चार बजे उन्हें दिल का दौरा पड़ गया। उन्हें सर सुंदरलाल अस्पताल लाया गया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top